Breaking News featured यूपी

सीएम योगी का बड़ा बयान, 15 मार्च तक मार्केट में आ सकता है नया कोरोना टीका

सीएम योगी का बड़ा बयान, 15 मार्च तक मार्केट में आ सकता है नया कोरोना टीका

लखनऊ: वैश्वि‍क महामारी कोविड-19 से निपटने के लिए देश में कोरोना टीकाकरण का तीसरा चरण एक मार्च से शुरू होगा। इस बीच उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने बड़ा ऐलान किया है।

यह भी पढ़ें:  एक मार्च से इन बदलावों के साथ पूरी तरह खुलेगा इलाहाबाद हाईकोर्ट 

सीएम योगी ने गुरुवार को विधान परिषद में राज्‍यपाल के अभिभाषण पर बोलते हुए कहा कि, ‘कोरोना के दो नए टीके 15 मार्च तक मार्केट में आ सकते हैं। इन टीकों को कोई भी चाहे तो खरीद कर लगवा सकता है। इसी के साथ भारत दुनिया का पहला ऐसा देश होगा, जिसने कोरोना की चार वैक्सीन दुनिया को दी।’

चार कोरोना वैक्‍सीन देने वाला पहला देश होगा भारत

मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा, इस वैश्विक महामारी से जहां विश्व की बड़ी-बड़ी अर्थव्यवस्थाएं धराशायी हो गईं वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने इसके खिलाफ प्रभावशाली ढंग से लड़ाई लड़ी। भारत, विश्‍व का एकमात्र ऐसा देश है, जिसने कोविड की दो वैक्सीन दी है।

यूपी में हर दिन दो लाख टेस्‍ट करने की क्षमता   

सीएम योगी ने कहा कि, जब कोविड-19 के मामले आना शुरू हुए तो उत्तर प्रदेश में टेस्ट करने क्षमता नहीं थी, लेकिन आज यह स्थिति है कि यूपी के पास हर दिन दो लाख टेस्ट करने की क्षमता है। हर जिले में आइसीयू और वेंटिलेटर की व्यवस्था की है। आज के आंकड़ों के अनुसार, उत्‍तर प्रदेश में सिर्फ 2000 कोरोना संक्रमित मरीज हैं।

सीएम योगी ने कहा- WHO ने भी हमारे प्रबंधन की सराहना

विधान परिषद में सीएम योगी ने कहा, प्रदेश के हर नागरिक को सरकार के कोरोना प्रबंधन पर गर्व होना चाहिए। हमारे प्रबंधन की सराहना विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी की। उन्होंने कहा, कोरोना के कारण एक भी मौत हो तो वो कष्टदायी है, लेकिन हमें कोरोना वॉरियर्स की कोशिशों का अपमान नहीं करना चाहिए।

लखनऊ में आठ लाख से ज्‍यादा बुजुर्गों को लगेगा टीका

देश में कोरोना टीकाकरण के तीसरे चरण में 60 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों व 45 वर्ष से अधिक उम्र के उन लोगों को टीका लगाया जाएगा, जो गंभीर बीमारी से ग्रसित हैं। वहीं, लखनऊ में आठ लाख से ज्‍यादा बुजुर्गों को टीका लगेगा। कोरोना टीकाकरण के लिए 10 हजार सरकारी स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों और 20 हजार निजी अस्‍पतालों को केंद्र बनाया जाएगा। सरकारी केंद्रों पर टीकाकरण मुफ्त होगा, जबकि निजी अस्‍पतालों में पैसे देने पड़ेंगे। यह फैसला बुधवार को पीएम मोदी की अध्‍यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में लिया गया।

Related posts

RRB NTPC Student Protest: छात्रों ने किया बिहार बंद का आवाहन, राजनीतिक पार्टियों का मिला साथ

Neetu Rajbhar

हरियाणा मार्क की शराब की बोलतें बरामद

kumari ashu

माया का 61वां जन्मदिन आज, चुनाव आयोग की कार्यक्रम पर नजर

kumari ashu