terrorists

Terrorist Attack In Lucknow: यूपी की राजधानी लखनऊ में 11 जुलाई को एटीएस ने काकोरी क्षेत्र से दो संदिग्ध आतंकिवादियों को पकड़ा था। एटीएस ने इन दोनों संदिग्ध आतंकवादियों को 12 जुलाई को कोर्ट में पेश किया। इन दोनों को 14 दिनों की रिमांड पर भेजा गया। जहां संदिग्ध आतंकवादियों से लगातार पूछताछ की जा रही है।

मई के महीने में थी ब्लास्ट की साजिश

14 दिनों की रिमांड पर दोनों संदिग्ध आतंकवादियों ने बताया की वह मई के महीने में ब्लास्ट करने की साजिश कर रहे थे। लेकिन कठोर लॉकडाउन होने की वजह से वह ब्लास्ट करने में असफल रहे। दोनों संदिग्ध आतंकियों ने लॉकडाउन के चलते मई में ब्लास्ट का प्लान टाल दिया था।

13 खातों में हुई लाखों की फंडिंग

सुबह खबर आई थी कि दोनों संदिग्धों ने कानपुर में ट्रेनिंग ली थी। यहां के चमनगंज में एक मदरसे में दोनों ने ट्रेनिंग ली थी। पुलिस ने कानपुर से एक बिल्डर की भी गिरफ्तारी की है। खबर यह है कि कानपुर से 13 खातों से लाखों रुपए की फंडिंग हुई है। यह पैसे तौहीद के खाते में मनहाज ने भेजे थे। पुलिस ने संभल से भी 12 लोगों को हिरासत में लिया है।

अलकायदा संदिग्ध आतंकियों का खुलासा
  • मई महीने में थी ब्लास्ट की साजिश
  • लॉकडाउन के चलते प्लान टाला गया था
  • एटीएस दोनों को जम्मू-कश्मीर लेकर जाएगी
  • कानपुर से एक बिल्डर को गिरफ्तार किया गया है
  • कानपुर में 13 खातों से हुई लाखों की फंडिंग
  • सम्भल से 2 दर्जन लोग हिरासत में लिए गए
  • कश्मीर के तौहीद के खाते में मिनहाज ने पैसे भेजे

विशेष बातचीत: यूपी सरकार पर भड़के कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष, कहा- ये पुलिस को आगे कर…

Previous article

अल्मोड़ा पहुंचे काबीना मंत्री अरविंद पाण्डे, शिक्षकों की तैनाती पर बड़ा बयान

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured