featured देश राज्य

महिलाओं पर नहीं होगा रेप और छेड़छाड़ का मामला दर्ज, SC ने खारिज की याचिका

supreme court

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने उस याचिका को बीते शुक्रवार को खारिज कर दिया जिसमें महिलाओं पर यौन उत्पीड़न और रेप का केस चलाने की बात कही गई थी। याचिकाकर्ता का कहना है कि ऐसे मामलों में अगर पुरूष के साथ महिलाओं ने अपराध किया तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए और मुकद्दमें चलाए जाने चाहिए। लेकिन आईपीसी के कानूनी प्रावधान के मुताबिक रेप और छेड़छाड़ मामले में आरोपी पुरुष हो सकते हैं और महिलाएं पीड़ित, लेकिन ये संविधान के प्रावधान के खिलाफ है।

supreme court
supreme court

बता दें कि याचिकाकर्ता वकील ऋषि मल्होत्रा ने दलील दी है कि आईपीसी की धारा-354 और 375 में छेड़छाड़ और रेप को परिभाषित किया गया है। इन धाराओं में किसी भी पुरुष के खिलाफ मामला दर्ज किए जाने का प्रावधान है। महिलाओं को यहां पीड़ित माना गया है और आरोपी कोई पुरुष हो सकता है, पर अपराध कोई भी कर सकता है।

वहीं याचिकाकर्ता मल्होत्रा का कहना है कि रेप और छेड़छाड़ में लिंग भेद नहीं हो सकता। इसमें लिंग के आधार पर भेदभाव नहीं किया जा सकता क्योंकि महिलाएं भी ऐसा अपराध कर सकती हैं। ऐसे में आईपीसी की धारा-375 यानी रेप और 354 यानी छेड़छाड़ मामले में किसी के खिलाफ भी केस दर्ज किए जाने का प्रावधान होना चाहिए। यानी किसी आदमी के बदले किसी के भी खिलाफ केस दर्ज करने का प्रावधान होना चाहिए।

Related posts

आईएएस टीना डाबी को ‘प्रेसिडेंट ऑफ इंडिया गोल्ड मेडल’ अवार्ड से सम्मानित किया गया

mahesh yadav

मेरठ: नशा मुक्ति केंद्र में युवक की हत्‍या, ऐसे छुपाकर रखी गई थी लाश

Shailendra Singh

नहीं रहे श्रीवल्लभ व्यास, फिल्म लगान में निभाया था ईश्वर काका का किरदार

Vijay Shrer