cm yogi

लखनऊ: उत्तर प्रदेश कई बड़ी कंपनियों के लिए बड़ा व्यापारिक बाजार बन रहा है। इसका उदाहरण शुक्रवार को देखने को मिला, जब एक स्वीडन की कंपनी ने प्रदेश में 5000 करोड़ रुपये का निवेश करने की योजना बनाई।

आईकिया कंपनी कर रही निवेश

आईकिया नामक स्वीडन कंपनी ने लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में ऐलान किया। स्वीडन की कंपनी और उत्तर प्रदेश सरकार में इस निवेश को लेकर समझौता हुआ है।

यह भी पढ़ें: अखिलेश यादव की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कहा सलाह नहीं, सरकार बनाऊंगा

यह 5000 करोड़ का निवेश नोएडा में किया जाएगा। इसके लिए कंपनी ने नोएडा सेक्टर 51 को चुना है। जहां 12 एकड़ की जमीन उपलब्ध करवाई जा रही है। इस जमीन पर जल्द ही निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा।

योगी ने किया धन्यवाद

भूमि हस्तांतरण एवं लीज डीड विनिमय समारोह के अवसर पर यह समझौता हुआ। समारोह में मौजूद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा और स्वीडन की कंपनी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि नोएडा जैसे शहर में काफी संभावनाएं हैं, यहां निवेश करना कंपनी और बाजार दोनों के लिए बेहतर साबित होगा।

उन्होंने कहा कि नोएडा और उसके आसपास के इलाके निवेश की सबसे अधिक संभावनाएं पैदा करते हैं। जहां अन्य जगहों पर उम्मीद काफी कम है। वहीं उत्तर प्रदेश बड़े बाजार के रूप में अब सामने आ रहा है।

आईकिया है विश्व विख्यात कंपनी

यह कंपनी घरेलू फर्निशिंग रिटेलर कंपनी है। जो भारत में कुल 10,500 करोड़ों रुपए का निवेश करने की रणनीति बना रही है। इसी के तहत उत्तर प्रदेश में कुल 5000 करोड़ का निवेश किया जाना है।

Untitled 1 उत्तर प्रदेश सरकार ने किया बड़े निवेश पर समझौता, स्वीडन की कंपनी करेगी 5 करोड़ का निवेश

इससे पहले भी इस कंपनी ने हैदराबाद में कई स्टोर खोले। उसका अगला लक्ष्य नवी मुंबई और नोएडा जैसी जगहें हैं। आईकिया का मशहूर फर्नीचर मेगा स्टोर अब नोएडा में भी देखने को मिलेगा।

निवेश के लिए सबसे उपयुक्त है प्रदेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश निवेश के लिए सबसे उपयुक्त है। जहां युवाओं की सबसे ज्यादा संख्या है, ऐसे में काम करने वाले कुशल लोग और बाजार दोनों उत्तर प्रदेश में मौजूद हैं।

दूसरी तरफ पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार सिर्फ इन्वेस्टमेंट की बात करती है, जमीन पर कुछ दिखाई नहीं देता।

योगी सरकार का अंतिम बजट, पढ़िए क्‍या चाहते हैं लखनऊ के युवा?

Previous article

देहरादून को मुख्यमंत्री रावत की सौगात ,जल्द बनेगा मुक्त विश्व विद्यालय

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured