‘एमपीएटीजीएम’ की द्वितीय उड़ान का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया

‘एमपीएटीजीएम’ की द्वितीय उड़ान का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया

सुरक्षा के क्षेत्र में देश ने बड़ी सफलता अर्जित की है। मालूम हो कि ‘एमपीएटीजीएम’ की द्वितीय उड़ान का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया।स्वदेशी रूप से निर्मित्त मैन पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल (एमपीएटीजीएम) की द्वितीय उड़ान का अहमदनगर से आज सफलतापूर्वक परीक्षण कर लिया गया। इसमें मिशन के सभी उद्वेश्यों को पूरा कर लिया गया है। 15 एवं 16 सितंबर, 2018 को दो मिशनों का अधिकतम रेंज क्षमता सहित विभिन्न रेंजों के लिए सफलतापूर्वक परीक्षण कर लिया गया है।

इसे भी पढ़ेः भारत ने अग्नि-5 मिसाइल का अब्दुल कलाम आईलैंड के इंटेग्रेटिड टेस्ट रेंज से सफल परीक्षण किया

 

एमपीएटीजीएम अस्त्र प्रणाली की दोहरी सफलता के लिए निर्मला सीतारमन ने सेना एवं मिशन से जुड़े उद्योगों को बधाई दी

इसे भी पढ़ेःGES: मोदी से मुलाकात के बाद इवांका ने बांधे तारीफ के पुल, शाही डिनर का उठाया लुत्फ

इस सफलता के लिए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन ने डीआरडीओ, भारतीय सेना एवं मिशन से जुड़े उद्योगों को एमपीएटीजीएम अस्त्र प्रणाली की दोहरी सफलता बताते हुए पर बधाई दी।

इसे भी पढ़ेःसुखोई-30 से उड़ान भरने के बाद बोली रक्षा मंत्री, ये मेरी जिंदगी का सबसे अच्छा अनुभव

आपको बता दें कि स्वदेशी रूप से निर्मित्त मैन पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल (एमपीएटीजीएम) की द्वितीय उड़ान का अहमदनगर से आज यानी कि 16 अगस्त 2 018 को सफलतापूर्वक परीक्षण कर लिया गया।

महेश कुमार यदुवंशी