मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म, लावारिश हाल में छोड़कर भागा आरोपी

सिंगाही। टॉफी दिलाने के बहाने घर से बुलाकर लाई गई एक तीन साल की मासूम बच्ची को दरिंदे ने अपनी हवस का शिकार बना डाला। आरोपी ने उसके साथ दरिंदगी की और सड़क किनारे खून से लथपथ बच्ची को लावारिश हाल में छोड़कर भाग निकला। बच्ची के कपड़े खून से सने थे। सूचना पर पहुंची डायल १०० बच्ची को बेहोशी की हालत में पहले थाना लाई। पुलिस मामले को दबाने की कोशिश में जुटी और बच्ची को प्राइवेट डॉक्टर के पास ले गई, लेकिन जब डॉक्टर ने हाथ खड़े कर दिए तो उसे आनन-फानन सीएचसी निघासन लेकर पहुंचे,जहां से डॉक्टर ने उसे जिला महिला अस्पताल रेफर कर दिया। अस्पताल में डॉक्टरों ने बच्ची का उपचार शुरू कर दिया है। डॉक्टर ने बच्ची की हालत खतरे से बाहर बताई है।

थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति ने बताया कि उसकी ससुराल पास में ही है। सोमवार की शाम को शिवमंदिर में होली गीत हो रहे थे। वह लोग घर पर ही थे। उनकी बच्ची रोज बिना बताए अपने नाना के घर चली जाती थी। वहीं पर वह रहती थी। सोमवार की शाम सभी लोग होली गीत में शिव मंदिर पर मशगूल थे। इसी बीच बच्ची भी खेलती हुई आई। आरोप हैं कि पड़ोस का एक युवक शराब के नशे में था, जो बच्ची को टॉफी दिलाने के बहाने ले गया, फिर सड़क किनारे उसके साथ दुराचार किया और बच्ची को बेहोशी की हालत में छोड़कर भाग निकला। रात करीब नौ बजे मोहल्ले के ही रमन जोशी उधर से निकले तो उनकी नजर बेहोशी की हालत में पड़ी बच्ची पर पड़ी। उसके अंदरूनी कपड़े खून से सने थे। उन्होंने इसकी सूचना यूपी डायल १०० और चेयरपर्सन कयूम को दी।

बच्ची की शिनाख्त न होने पर चेयरपर्सन कयूम ने मस्जिद में एनाउंस भी कराया, लेकिन उसके माता-पिता का कोई पता नहीं चला। उधर मौके पर पहुंची पुलिस चौकीदार की पत्नी को साथ लेकर बच्ची को एक प्राइवेट डॉक्टर के पास ले गई। बच्ची की हालत देख डॉक्टर ने अपने हाथ खड़े कर दिए। इस पर पुलिस उसे बेहोशी की हालत में निघासन सीएचसी लाई, जहां से डॉक्टर ने महिला अस्पताल रेफर कर दिया। पुलिस ने बच्ची को जिला महिला अस्पताल में भर्ती कराया है। बच्ची का उपचार कर रहीं महिला डॉक्टरों ने उसके होश में होने और हालत में सुधार होने की बात बताई है। डॉक्टरों का कहना है कि बच्ची के प्राइवेट पार्ट पर चोट है, लेकिन मेडिकोलीगल की प्रक्रिया पूरी होने से पहले रेप के बावत कुछ साफ तौर पर नहीं कहा जा सकता है। उधर पुलिस ने आरोपी श्याम विश्वकर्मा के खिलाफ रेप और पाक्सो एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली है, लेकिन आरोपी को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी।

  -मसरुर खान