featured राजस्थान

कांग्रेस में सियासी खींचतान के बीच जयपुर दौरे पर माकन, गहलोत और पायलट खेमे से करेंगे मुलाकात

AJAY MAKN कांग्रेस में सियासी खींचतान के बीच जयपुर दौरे पर माकन, गहलोत और पायलट खेमे से करेंगे मुलाकात

राजस्थान में सियासी घमासान रुकने का नाम नहीं ले रहा है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट में सियासी घमासान जारी है।

कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा भी दोनों के बीच की दूरी खत्म करने में कामयाब होते नहीं दिख रहे हैं। इसी के चलते अब राजस्थान के प्रभारी अजय माकन जयपुर दौरे पर हैं। वैसे तो औपचारिक तौर पर उनका दौरा प्रदेश के पदाधिकारियों की बैठक लेने का है लेकिन ये बात भी निकलकर सामने आ रही है कि माकन के दौरे को देखते हुए गहलोत और पायलट खेमा सक्रिय हो गए हैं।

पीसीसी चीफ के साथ लेंगे अधिकारियों की बैठक

प्रदेश प्रभारी अजय माकन प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रदेश कार्यकारिणी और अग्रमि संगठनों के प्रमुखों की बैठक लेंगे। इसके साथ ही वो 7 जुलाई से मोदी सरकार के खिलाफ महंगाई को लेकर किए जाने वाले आंदोलन की तैयारी देखेंगे और पदाधिकारियों को भी दिशा निर्देश देंगे। आपको बता दें कि अजय माकन तीन महीने बाद प्रदेश के दौरे पर आए हैं। इससे पहले 3 अप्रैल को विधानसभा उपचुनाव के दौरान माकन राजस्थान आए थे।

दोनों खेमों से मिलेंगे प्रदेश प्रभारी

बताया जा रहा है कि अजय माकन अपने इस दौरे के दौरान गहलोत और पायलट खेमों के नेताओं से मिलेंगे। माकन के इस दौरान का पायलट खेमा लंबे समय से इंतजार कर रहा है। बीते कुछ दिन पहले ही पायलट खेमे के कई विधायक दिल्ली में अजय माकन से मुलाकात करने भी पहुंचे थे। जहां माकन ने उनकी समस्याओं को सुना था। लेकिन अब जब माकन प्रदेश के दौरे पर आए हैं तो पायलट खेमा अपनी पूरी नाराजगी उनकी सामने बयां करेगा।

गहलोत पहले ही चल चुके हैं चाल!

एक ओर जहां अजय माकन राजस्थान के दौरे पर पहुंचे हैं तो दूसरी ओर अजय माकन के राजस्थान पहुंचने से पहले ही रघु शर्मा माकन से मिलने दिल्ली पहुंचे थे। जिसके बाद से ही राजनीतिक हलकों में चिकित्सा मंत्री का दिल्ली दौरान चर्चा में है। जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पहले ही पता था कि अजय माकन प्रदेश के दौरे पर आ रहे हैं तो ऐसे में रघु शर्मा को दिल्ली क्यों भेजा गया? ये सवाल अपने आप में तब और भी पेचीदा हो जाता है जब प्रदेश में गहलोत और पायलट खेमे के बीच सियासी जंग छिड़ी हो। बताया जा रहा है कि रघु शर्मा का दिल्ली दौरान मुख्यमंत्री गहलोत खेमे की ओर से अचानक तय किया था। वहीं दिल्ली में रघु शर्मा ने संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल और कोषाध्यक्ष पवन बंसल से भी मुलाकात की थी।

मंत्रिमंडल विस्तार का विधायक रखेंगे प्रस्ताव

अब जब माकन प्रदेश के दौरे पर आ ही गए हैं तो भला बसपा से कांग्रेस में आए विधायक उनसे मिलने की पेशकश ना करें ये भी हो नहीं सकता। बताया जा रहा है कि माकन से बसपा से कांग्रेस में आए विधायक और निर्दलीय विधायक भी मिलेंगे और जल्द ही राजस्थान में मंत्रिमण्डल विस्तार में खुद को शामिल करने की मांग करेंगे। विधायक पहले भी इस मांग को रख चुके हैं लेकिन अभी तक मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर कोई पहल नहीं हुई है। लिहाजा अब माकन के दौरे पर ही सभी की आस टिकी हुई है। एक और गहलोत और पायलट खेमा अपनी रणनीति तैयार किए बैठे हैं तो दूसरी ओर बसपा विधायक अपनी बात भी प्रदेश प्रभारी के समक्ष रखेंगे। बहरहाल. प्रभारी माकन मंगलवार रात को जयपुर में ही रुकेंगे और अगले दिन यानी 7 जुलाई को दोपहर 1 बजकर 55 मिनट पर दिल्ली लौट जाएंगे।

Related posts

लखनऊः अलीगंज में चल रहे अंतरराज्यीय फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश, 10 आरोपी गिरफ्तार

Shailendra Singh

विहिप की केंद्रीय बैठक में उठेगा धर्मांतरण का मुद्दा

Shailendra Singh

मुंबई हादसा: पीएम मोदी ने जताया दुख, रेल मंत्री ने दिए जांच के आदेश

Pradeep sharma