featured बिज़नेस

कोरोना संकट के चलते रेलवे दे सकता है ग्राहकों को ये राहत, हो सकता है इस बात पर मंथन

indian railway

रेलवे अपने एक वित्तीय आयुक्त के प्रस्तावों के मुताबिक खर्च कम करने के तरीकों पर मंथन कर रहा है।

नई दिल्ली। रेलवे अपने एक वित्तीय आयुक्त के प्रस्तावों के मुताबिक खर्च कम करने के तरीकों पर मंथन कर रहा है। इसके तहत रेलवे जल्द ही नई भर्तियों पर रोक, कर्मियों की संख्या तार्किक स्तर पर लाने, समारोहों का आयोजन डिजिटल प्लेटफॉर्म पर करने औ स्टेशनरी के इस्तेमाल में 50 फीसदी तक कटौती करने जैसे कदम उठा सकता है।

कोरोना वायरस के कारण इस साल अब तक कमाई में आई भारी कमी से रेलवे मितव्ययिता बरतने के तरीके ढूंढ़ रहा है। 19 जून,2020 के पत्र में वित्तीय आयुक्त ने रेलवे के सभी जोन के महाप्रबंधकों को लिखा कि परिवहन से कमाई में मई महीने के अंत तक पिछले साल के मुकाबले 58 फीसदी कमी आई है। पत्र में कहा गया है कि खर्च घटाने के नए क्षेत्रों को तलाशने समेत आय बढ़ाने के तरीकों को ढूंढ़ने की जरूरत है।

https://www.bharatkhabar.com/sc-stops-jagannath-yatra-due-to-spreading-infection-of-corona-virus/

आयुक्त ने पत्र में लिखा- जैसा कि आप सब जानते हैं कि सरकार ने रेलवे से कहा है कि वह अपने खर्च की व्यवस्था स्वयं करे, इस खर्च में पेंशन समेत सभी राजस्व खर्च शामिल हैं, लेकिन कोरोना और लॉकडाउन के कारण इस साल का बजट लक्ष्य बुरी तरह प्रभावित हुआ है।

Related posts

केजरीवाल को झटका, हाईकार्ट ने खारिज की केजरीवाल की याचिका

Rahul srivastava

सुप्रीम कोर्ट ने ईवीएम-वीवीपैट के सम्बंध में सुनाया नया फरमान, देखें क्या होगा नतीजा

bharatkhabar

घाटी में बसे रोहिंग्या मुस्लिमों पर एक्शन लेने के मूड में केंद्र सरकार

Rahul srivastava