featured यूपी

फतेहपुर: पिता को मौत के घाट उतारने वाला गिरफ्तार, सीने पर बैठकर की थी हत्‍या

फतेहपुर: पिता को मौत के घाट उतारने वाला गिरफ्तार, सीने पर बैठकर की थी हत्‍या

फतेहपुर: जिले में ढाई बीघे जमीन के लिए अपने बाप को मौत के घाट उतारने वाला 19 वर्षीय आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हुसैनगंज थाना क्षेत्र में वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी को पुलिस ने पूछताछ के लिए न्यायालय से रिमांड पर लिया है।

आरोपी बेटे ने बिल्कुल फिल्मी स्टाइल में अपने पिता के सीने में बैठकर उनकी गर्दन दबाते हुए हत्या की थी। उसकी दीदी की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए उसकी खोजबीन कर रही थी। शनिवार को थानाध्यक्ष रणजीत बहादुर सिंह ने अपनी टीम के साथ देवरी मोड़ के पास से उसे गिरफ्तार कर लिया।

हरदोई में की थी बेटी की शादी

जानकारी के अनुसार, थाना क्षेत्र के अहमदपुर गांव के रहने वाले आत्माराम अपने अपने 19 वर्षीय पुत्र दीपक के साथ रहते थे। संपत्ति के नाम पर उनके पास ढाई बीघे जमीन और घर था। बाप-बेटा दोनों शराब पीते थे। ऐसे में दोनों को पैसे की जरूरत बनी रहती थी। आत्माराम ने अपनी बेटी मंजू की शादी हरदोई में की थी।

इसी बीच दीपक को पता चलता है कि उसका पिता आत्माराम ढाई बीघा जमीन बेचना चाहता है। ऐसे में उसने अपने बाप को मारने की योजना बनाई। इसी दौरान जब 25 मई को वह अकेले अपने घर पर था। तभी नशे की हालत में उसका पिता घर के अंदर आता है। यहां पर दीपक पहले से घात लगाए बैठा था। मौका पाकर उसने रसोई में रखे बेलन से आत्माराम की आंख फोड़ दी।

सीने पर बैठकर की हत्‍या

जैसे-तैसे उसके पिता ने विरोध तो किया लेकिन वह दीपक की चंगुल से खुद को आजाद नहीं कर पाए। मौका पाकर दीपक ने उन्हें जमीन पर गिरा दिया और उनके सीने पर बैठ गया। इसके बाद उसने अपने पिता की गर्दन तब तक दबाई, जब तक उनकी हत्या नहीं हो गयी। घटना को अंजाम देने के बाद उसने पड़ोसियों को मनगढ़ंत बात बताई और हरदोई में रहने वाली अपनी दीदी मंजू को फोन कर सूचना देने को कहा।

घटना की सूचना पर जब उसकी दीदी घर पहुंची तो उन्होंने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए पड़ताल शुरू की। इसी बीच मृतका की बेटी मंजू थानाध्यक्ष रणजीत बहादुर सिंह से मिलती है और अपने भाई पर हत्या का संदेह जताती है। इसके साथ ही उसने तहरीर देते हुए मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

गिरफ्तारी में इनका रहा अहम रोल

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चला कि आत्माराम की मौत गला दबाने से हुई। इसी आधार पर थाना प्रभारी रणजीत बहादुर सिंह ने आरोपी दीपक को देवरी मोड़ से गिरफ्तार कर लिया। उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपी को गिरफ्तार करने में हेड कॉन्स्टेबल शिवेंद्र प्रताप सिंह, कांस्टेबल वाशिद अली, महिला कांस्टेबल पूजा सिंह ने अपना योगदान दिया।

Related posts

अगर ऐसा है तो कांग्रेस को यह जीत मुबारक: भाजपा

Rani Naqvi

बिहार: मुजफ्फरपुर में नूडल फैक्ट्री में बॉयलर ब्लास्ट, 5 लोगों की मौत

Rahul

Aaj Ka Panchang: जान‍िए 16 मई 2022 दिन सोमवार का पंचांग, शुभ मुहूर्त और राहुकाल

Rahul