ठेका गाड़ियों की उत्तर प्रदेश में बढ़ी परमिट, 12 साल की हुई समय सीमा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश राज्य परिवहन प्राधिकरण में ठेका गाड़ियों की आयु सीमा में बढ़ोतरी करने का फैसला लिया है। ऐसी सभी गाड़ियां जिनका परिवहन के लिए इस्तेमाल होता है, उनकी आयु सीमा 3 साल बढ़ा दी गई है। यह फैसला सोमवार को एसटीए की बैठक में लिया गया है।

इन गाड़ियों को मिलेगा फायदा

इस नए परिवर्तन का फायदा शादी ब्याह, पिकनिक और प्रदेश में सामूहिक टूर आदि की बुकिंग करने वाली गाड़ियों को मिलेगा। सोमवार को हुई बैठक में ऐसी सभी गाड़ियों की संचालन आयु 9 वर्ष से बढ़ाकर 12 वर्ष कर दी गई है। इसका फायदा उन सभी गाड़ियों को मिलेगा, जो ठेका गाड़ी परमिट के अंतर्गत आती हैं।

इन रूटों पर दौड़ेंगी 220 निजी बसें

प्रदेश के 50 अंतरराज्यीय रूट पर निजी बसों का संचालन करने के लिए बैठक में मंजूरी दे दी गई है। इस नए बदलाव के बाद झांसी से टीकमगढ, मदनपुर, दतिया, गौना आदि के लिए निजी बसें शुरु होंगी। इसके अलावा नगीना से कालागढ़ के बीच, दतिया से समथर और बसई, छतरपुर के बीच संचालन होना है। ललितपुर, सहारनपुर, महोबा, रामपुर, गाजियाबाद समेत अलग-अलग मार्गों पर निजी बसों के संचालन को बेहतर करना है।

काल बना कोरोना: 24 घंटे में 96 हजार से ज्यादा केस, 446 मौतें

Previous article

ज्योतिष में क्या है चंद्रमा, जानिए चंद्र से जुड़ा हर रहस्य

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured