शादी के पहले मां बाप को जरुरी है ये बात बताना

नई दिल्ली। माता पिता जब अपने बच्चों की शादी की बात करते हैं तो बच्चे अक्सर चिढ़ जाते हैं। पैरेंटस अक्सर बताते है कि शादी की सही उम्र क्या होती है।मां बाप हमारे शुभचिंतक होते हैं और हमारे लिए सबसे अच्छा चाहते हैं। रिलेशनशिप के लिए सबसे बेस्ट सलाह वही देते हैं।

 

एक सफल शादी के लिए दोनों पार्टनर्स को लगातार प्रयास, डेडिकेशन, कमिटमेंट के साथ साथ बहुत कुछ करना होता है।लड़की को किसी भी कीमत पर अपने आत्मसम्मान से समझौता नहीं करना चाहिए। माता पिता कई बार रिश्ते तय करते है, लेकिन ये आपको ध्यान रखना है कि आपको जीवन में क्या चाहिए।

लड़कियां अक्सर अपने सपनों के राजकुमार के ख्यालों में खोई रहती हैं। मां बाप ये कभी नहीं बताते की शादी के कभी कभी लड़कियों को ऐसे समय भी देखना पड़ सकता है जब दोनों के बीच प्यार ही न रह जाए। मां को जरुरत है बताने की शादी के लिए कोई राजकुमार नहीं होता बल्कि एक आम लड़के के साथ ही जिंदगी गुजारनी होती है।

शादी के साथ आने वाली बड़ी जिम्मेदारियों के लिए कोई माता-पिता अपनी बेटी को तैयार नहीं कर सकते। यदि वह एक कामकाजी महिला है, तो वह अपने पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में संतुलन हासिल करना सीख सकती है।