featured यूपी

राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर वेबिनार का आयोजन

इंटीग्रल यूनिवर्सिटी राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर वेबिनार का आयोजन

लखनऊ। शिक्षा प्रणाली को बदलने और इसे 21 वीं सदी की चुनौतियों के लिए वास्तव में प्रासंगिक बनाने के सपने को साकार करने के लिए, राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) 2020 को सरकार द्वारा अनुमोदित किया गया था।

साल 2020 में 29 जुलाई को भारत सरकार के निर्देशों के अनुसार, एनईपी-2020 के कार्यान्वयन के लिए इंटीग्रल यूनिवर्सिटी, लखनऊ टास्क फोर्स और मानव संसाधन विकास केंद्र (एचआरडीसी), इंटीग्रल यूनिवर्सिटी ने आज “एनईपी 2020 रिस्ट्रक्चरिंग हायर एजुकेशन” पर एक राष्ट्रीय वेबिनार आयोजित किया, जिसमें  21 विश्वविद्यालयों और संस्थानों के कुल 240 प्रतिभागियों ने भाग लिया।

कार्यक्रम की शुरूआत इंटीग्रल यूनिवर्सिटी के संस्थापक एवं कुलाधिपति प्रोफेसर सैयद वसीम अख्तर और यूनिवर्सिटी के प्रो-चांसलर डॉ. सैयद नदीम अख्तर, के संरक्षण में हुई।  इस कार्यक्रम में अध्यक्ष के रूप में यूनिवर्सिटी, लखनऊ के कुलपति प्रो. जावेद मुसर्रत और एसपीआईयू-यूपी के राज्य परियोजना प्रशासक डॉ. अनिल कुमार अध्यक्ष के रूप में उपस्थित थे।

वेबिनार की शुरुआत प्रोफेसर सैयद अकील अहमद, निदेशक एचआरडीसी, इंटीग्रल यूनिवर्सिटी के स्वागत के साथ हुई। डॉ. अनिल कुमार ने एनईपी-2020 की विभिन्न पेचीदगियों के बारे में बड़ी बारीकी के साथ अपने विचार साझा किए डॉ. कुमार ने नीति को सही मायनों में लागू करके वर्तमान शिक्षा प्रणाली में सुधार की आवश्यकता पर प्रकाश डाला।

प्रो. जावेद मुसर्रत, कुलपति, इंटीग्रल यूनिवर्सिटी, लखनऊ ने अनुसंधान संचालित विश्वविद्यालयों के महत्व पर प्रकाश डाला और प्रतिभागियों को एक साथ आने, उनके प्रयासों को एकजुट करने और भारत को वैश्विक नेता बनाने संबंधित विशेष जानकारियां साझा की।

Related posts

रोने पर मजबूर दर देगी दो साल की बच्ची की ये कहानी, बहुत ही इमोशनल है पीहू की कहानी

Rani Naqvi

नतीजो से पहले जश्न की तैयारी में लगे ट्रंप, वोटों की गिनती में धाधंली को लेकर जाएंगे सुप्रीम कोर्ट

Trinath Mishra

जाने ग्रह दशाओं के अनुसार क्या है कोरोना की भविष्यवाणी

Rani Naqvi