September 26, 2022 9:29 am
featured यूपी

काकोरी ट्रेन एक्शन डे पर सीएम योगी ने किया काकोरी के शहीदों को नमन, कहा भारत की ताकत, भारत की ‘सामूहिकता’ है

20220809 184113 काकोरी ट्रेन एक्शन डे पर सीएम योगी ने किया काकोरी के शहीदों को नमन, कहा भारत की ताकत, भारत की 'सामूहिकता' है

शिवनंदन सिंह संवाददाता

UP NEWS : 9 अगस्त 1925 का वह ऐतिहासिक दिन जब आजादी के दीवानों ने अंग्रेजों के होश उड़ा दिए थे। इस घटना को लोग काफी समय से काकोरी कांड के नाम से जानते हैं। कहते हैं कि आज ही के दिन आजादी के दीवानों ने अंग्रेजों को दातों तले उंगली दबाने पर मजबूर कर दिया था। जब हिंदुस्तान रिपब्लिकन एसोशिएशन ने लखनऊ के काकोरी रेलवे स्टेशन पर आठ डाउन सहारनपुर-लखनऊ पैसेन्जर ट्रेन को चेन खींच कर रोकने के साथ ही उसमे रखे खज़ाने को अपने कब्ज़े में लिया था।

IMG 20220809 WA0027 काकोरी ट्रेन एक्शन डे पर सीएम योगी ने किया काकोरी के शहीदों को नमन, कहा भारत की ताकत, भारत की 'सामूहिकता' है

इस घटना को अंजाम देने में पंडित रामप्रसाद, चंद्र शेखर आजाद, बिस्मिल, अशफाक उल्ला खा, ठाकुर रोशन सिंह, राजेंद्र नाथ लाहिड़ी समेत कई अन्य क्रांतिकारियों ब्रिटिश सरकार का धन व खजाना अपने कब्जे में लिया था। स्वतंत्रता सेनानियों ने खजाना लूटने के लिए जर्मन माउजर का इस्तेमाल किया था। उनके हाथ सरकारी खजाने से 4 हजार 6 सौ 1 रुपये 15 आने 6 पाई की रकम हाथ लगी थी। जिसके ब्रिटिश सरकार की तरफ से काकोरी कांड के आरोप में रामप्रसाद बिस्मिल, अशफाक उल्ला खां और रोशन सिंह को फांसी दे दी गई थी। इस घटना के बाद पूरा देश हर साल 9 अगस्त को इस घटना को याद करता है।

Bihar Political Live : नीतीश-तेजस्‍वी ने राज्यपाल को सौंपा 164 विधायकों का समर्थन पत्र, तेजस्वी के घर चुने गए महागठबंधन के नेता

काकोरी कांड के नाम से जाने जाने वाली इस घटना को प्रदेश की योगी सरकार ने इसके नाम में परिवर्तन ‘काकोरी ट्रेन एक्शन डे’ नया नाम दिया। प्रदेश की योगी सरकार का हैं कि ब्रिटिश कालीन इतिहासकारों ने भारत के स्वतंत्रता संग्राम से जुड़ी इस महत्वपूर्ण घटना के नाम में ‘कांड’ जोड़ दिया था, जो अपमान की भावना को दर्शाता है। इसलिए उत्तर प्रदेश सरकार ने काकोरी की घटना को ट्रेन एक्शन करार दिया और कांड शब्द को हमेशा के लिए मिटा दिया। जिसकी आज पहली वर्षगांठ थी।

वही बात की जाए तो यूपी सरकार देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ मना रही है। जिसकी आज से शुरुआत हो गई है। ऐसे में आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ काकोरी के इस ऐतिहासिक स्थल पर पहुंच कर शहीदों की मूर्तियों पर माल्यार्पण करने के साथ ही चित्र प्रदर्शनी और अभिलेख प्रदर्शनी का उद्घाटन किया।

इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने डाक विभाग द्वारा काकोरी ट्रेन एक्शन पर विशेष डाक टिकट का आवरण का उद्घाटन और कम्युनिटी रेडियो जयघोष का भी शुभारंभ किया।

कई बीमारियों का रामबाण इलाज है दालचीनी, जानिए इसके फायदे
इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के परिवारजनों को सम्मानित भी किया। ठाकुर रोशन सिंह की पौत्री सरिता सिंह और अशफाक उल्ला खां के पौत्र अफाक उल्ला खां ने सीएम योगी की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि इस तरीके के कार्यक्रम देशभक्ति की अलख जगाने का काम करते हैं। देश के इतिहास के बारे में सभी को जानना चाहिए कि किसने देश को आजाद कराने में अहम योगदान दिया है।


20220809 184035 काकोरी ट्रेन एक्शन डे पर सीएम योगी ने किया काकोरी के शहीदों को नमन, कहा भारत की ताकत, भारत की 'सामूहिकता' है

इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का संबोधन सुनने पहुचे आस पास छात्र-छात्राओं ने सीएम योगी का हाथों में तिरंगा झंडा लेके जय हिंद व वंदे मातरम के नारों से स्वागत किया। सभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि भारतीय पराक्रम व स्वाभिमान के परिचायक, ब्रिटिश हुकूमत की चूलें हिला देने वाले ‘काकोरी ट्रेन एक्शन’ में अपना सर्वोच्च बलिदान देने वाले माँ भारती के अमर सपूतों को नमन। आइए, ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के इस पावन काल में अपने रणबांकुरों के स्वप्नों का भारत बनाने हेतु संकल्पित हों।

बर्बर ब्रिटिश हुकूमत से स्वाधीनता प्राप्ति हेतु संपूर्ण राष्ट्र में जन-जागरण करने करने वाले ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ (अगस्त क्रांति) की 80वीं वर्षगांठ पर सभी स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को विनम्र श्रद्धांजलि। स्वाधीनता की वेदी पर हुतात्माओं का अमर बलिदान सदैव प्रेरणा रहेगा। उत्तर प्रदेश और वर्तमान पीढ़ी सौभाग्यशाली है कि 1857 के प्रथम स्वातंत्र्य समर की भूमि उत्तर प्रदेश रही है।भारत की ताकत, भारत की ‘सामूहिकता’ है।

Related posts

MSME: उद्योगों को निखारने में मददगार साबित होंगे उद्यमियों के ये Suggestions

Shailendra Singh

अब इस दिन होगा सपा का प्रदेशव्यापी प्रदर्शन

Shailendra Singh

डगमगाने लगा रूस का हौसला, UKRAINE से लड़ने के लिए 1 लाख की नई सैनिक भर्ती

Rahul