Breaking News देश

किसान आंदोलन का नौवों दिन: अकाली दल हुई और सक्रिय, विपक्ष को कर रही एकजुट!

farmers protest 1 किसान आंदोलन का नौवों दिन: अकाली दल हुई और सक्रिय, विपक्ष को कर रही एकजुट!

कृषि कानूनों के खिलाफ आज किसानों के आंदोलन का नौवां दिन है. किसानों का संघर्ष तेज होता जा रहा है, लेकिन हल निकलता नजर नहीं आ रहा. बीते दिन भी किसानों और सरकार के बीच हुई बैठक बेनतीजा रही. ये बैठक करीब 7 घंटे तक चली. वहीं शनिवार को हुई बैठक 5 घंटे चले थी, लेकिन उसमें भी कोई नतीजा नहीं निकला था.
सरकार अपनी बात पर अड़ी है कि MSP के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं होगी. वहीं किसान कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग पर बने हुए हैं. आपक बता दें अब 5 दिसंबर को एक बार फिर से किसानों और सरकार के बीच में बातचीत होगी.

किसान आंदोलन में अकाली दल सक्रिय
अकाली दल शुरुआत से ही कृषि कानूनों के खिलाफ और किसानों के साथ खड़ा है. बड़ी बात ये है कि अकाली दल बीजेपी का बड़ा सहयोगी रहा है. लेकिन कृषि कानूनों के कारण की SAD की केंद्रिय कैबिनेट में मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने इस्तीफा दे दिया.

अब अकाली दल किसान आंदोलन में ओर भी सक्रिय होता हुआ नजर आ रहा है. अकाली दल अब विपक्ष को एकजुट करने की कोशिश कर रहा है. अकाली दल अब 5 दिसंबर को ममता बनर्जी से बातचीत करेगा. यही नहीं 6 दिसंबर को अकाली दल की उद्धव ठाकरे से मुलाकात होगी और साथ ही अखिलेश यादव और शरद पवार से भी बातचीत होगी.

किसान आंदोलन से ट्रैफिक टप
किसान आंदोलन को लेकर कई बॉर्डर बंद हैं. सिंघु, लामपुर, औचंदी, साफियाबाद बॉर्डर बंद हैं. पिआवो मनियारी और सबोली बॉर्डर भी बंद हैं. साथ ही एनएच-44 भी दोनों तरफ से बंद किया हुआ है. इन बॉर्डर के बंद होने से यातायात बेहद प्रभावित हुआ है. दिल्लीवासियों के साथ-साथ दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों को भी परेशानी उठानी पड़ रही है.

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने की लोगों से अपील
वहीं दिल्ली पुलिस ने बॉर्डर पर सुरक्षा को बढ़ा दिया है और दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने लोगों को अल्टरनेट रास्तों का इस्तेमाल करने की सलाह दी है. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस एडवाइजरी जारी कर हरियाणा जाने वाले लोगों के लिए धानसा, कापसहेड़ा, राजोकरी NH-8, बिजवासन/बाजगहेड़ा, पालम विहार, और डूंडाहेड़ा बॉर्डर का इस्तेमाल करने की सलाह दी है.

दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर करवाया गया खाली
पुलिस ने दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर को खाली करा लिया है. पुलिस ने इलाके में मौजूद प्रदर्शनकारियों को हटा दिया है. दिल्ली पुलिस ने टिकरी, झारोदा बॉर्डर को पूरी तरह से बंद कर दिया है. वहीं, बदुसराय बॉर्डर छोटी गाड़ियों जैसे कार और टू-व्हीलर को लिए खोली गई है. झटीकरा बॉर्डर को सिर्फ टू-व्हीलर के लिए खोला गया है. सिंधु, लामपुर, औचंडी, साफियाबाद, पिओ मनीआरी और साबोली बॉर्डर को भी बंद कर दिया गया है.

इसके अलावा एनएच-44 को दोनों तरफ से बंद किया गया है. लोगों से एनएच-8/भोपुरा/अप्सरा बॉर्डर/पेरिफेरक एक्सप्रेस-वे लेने की सलाह दी गई है. साथ ही आउटर रिंग रोड, जीटीके रोड और एनएच-44 पर यात्रा न करने की सलाह दी गई है.

Related posts

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020: जाने दिल्ली की 70 सीटों का सीट दर सीट समीकरण

Rani Naqvi

सपा के वरिष्ठ नेता वीरपाल यादव ‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चे’ में हुए शामिल

mahesh yadav

सीएम त्रिवेंद्र रावत ने पंचायती राज पर कार्यशाला का किया उद्घाटन

Trinath Mishra