naipal.jpg 2 बंधक बनाने के बाद नेपाल पुलिस ने भारतीय को छोड़ा, ऐसे सुलझाया गया मामला

सीतामढ़ी के सोनबरसा में नेपाल बॉर्डर इलाके में नेपाल पुलिस ने अचानक फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें 4 लोगों को गोली लग गई थी।

सीतामढ़ी। सीतामढ़ी के सोनबरसा में नेपाल बॉर्डर इलाके में नेपाल पुलिस ने अचानक फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें 4 लोगों को गोली लग गई थी। जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। उसके बाद नेपाल पुलिस ने लगन नाम के व्यक्ति को बंधक बना लिया था। जिसे अब भारत ने छुड़वा लिया है। खबर के मुताबिक जिस लड़के गोली लगने से मौत हो गई थी उसके परिजन धरने पर बैठ गए थे औरशव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया था। इसके बाद नेपाल प्रशासन और सीतामढ़ी के स्थानीय प्रशासन की बातचीत हुई और हिरासत में लिए गए लगन राय को रिहा किया गया। स्थानीय प्रशासन की नेपाल पुलिस से बातचीत के बाद ये हल निकला है।

बता दें कि इस मामले में बिहार के सीतामढ़ी के पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार ने अपनी रिपोर्ट सौंप दी थी। रिपोर्ट में दर्ज था कि नेपाल सुरक्षाबलों द्वारा हिरासत में लिए गए लगन राय नाम के व्यक्ति की रिहाई के लिए बिहार सरकार के अनुरोध पर भारत सरकार और नेपाल अथॉरिटी के संपर्क की भी बात सामने आई थी।

naipal बंधक बनाने के बाद नेपाल पुलिस ने भारतीय को छोड़ा, ऐसे सुलझाया गया मामला

इस मामले में एसएसबी के डीजी कुमार राजेश चंद्रा, सीतामढ़ी की डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा और एसपी अनिल कुमार ने इसे स्थानीय मुद्दा बताया था और इसका सीमा विवाद से कोई नाता न होने की बात कही थी। इस घटना में नेपाल पुलिस ने 18 राउंड फायरिंग की थी। घटना से पहले भी दो बार नेपाल पुलिस ने लोगों को खदेड़ा था। तीसरी बार भारतीयों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी।

https://www.bharatkhabar.com/pakistan-increases-defense-budget-in-lockdown/

वहीं कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को देखते हुए अभी भारत-नेपाल बॉर्डर सील है। आवाजाही बंद होने के बावजूद सीतामढ़ी जिला निवासी लगन राय अपने पुत्र के साथ किसी महिला रिश्तेदार से मिलने बॉर्डर पार गए थे। इसी क्रम में नेपाल पुलिस उनको बॉर्डर से भगाना चाह रही थी। कहा जा रहा है कि पिता-पुत्र ने थोड़ी देर की मोहल्लत मांगी तो एपीएफ (नेपाल सशस्त्र प्रहरी बल) ने उनके लड़के पर लाठी चला दी। लगन राय को घसीटते हुए बॉर्डर से 100 मीटर दूर ले गई और उसके बाद उनको बंधक बना लिया। लेकिन उसके बाद भारत के अनुरोध पर नेपाल पुलिस ने लगन राय को रिहा कर दिया।

Rani Naqvi
Rani Naqvi is a Journalist and Working with www.bharatkhabar.com, She is dedicated to Digital Media and working for real journalism.

    मौलाना साद जुमे की नमाज के लिए निकले घर से बाहर, पुलिस ने शुरू की जांच

    Previous article

    बीला राजेश को तमिलनाडु में कोविड-19 की लड़ाई से किया गया बाहर, बीमारी को लेकर की बड़ी लापरवाही

    Next article

    You may also like

    Comments

    Comments are closed.

    More in featured