September 17, 2021 1:54 pm
featured देश धर्म

आज से शुरू हो रहें हैं सावन, इस बार श्रावण मास में होंगे चार सोमवार

shiva 2 आज से शुरू हो रहें हैं सावन, इस बार श्रावण मास में होंगे चार सोमवार
सावन 25 जुलाई यानि आज से शुरू हो रहे हैं। इस बार सावन में चार सोमवार होंगे। इस साल सावन का महीना 29 दिन का है। श्रावण मास का सोमवार बहुत ही सौभाग्यशाली एवं पुण्य फलदायी माना जाता है।
भक्तों को होता है इसका इंतजार
सावन के सोमवार का भक्तों को बहुत इंतजार रहता है। इस महीने में भोलेशंकर की विशेष अराधना की जाती है। लोग भोले शंकर का रुद्राभिषेक कराते हैं। श्रावण में कृष्ण पक्ष की द्वितीया और शुक्ल पक्ष की नवमीं तिथि का क्षय है। हालांकि कृष्ण पक्ष पूरे 15 दिन का होगा। शुक्ल पक्ष 14 दिन का ही रहेगा। सावन में प्रदो व्रत 5 और 20 अगस्त को होगा। सावन का महीना महादेव और माता पार्वती को समर्पित होता है। इस पूरे मास को धार्मिक उत्सव की तरह मनाया जाता है। लोग काफी बेसब्री से इस माह का इंतजार करते हैं।
सावन के सोमवार
सावन का पहला सोमवारः 26 जुलाई
सावन का दूसरा सोमवार: 02 अगस्त
सावन तीसरा सोमवार: 09 अगस्त
सावन का चौथा सोमवार: 16 अगस्त
सावन में प्रदोष व्रत: 05 और 20 अगस्त को
भक्त अलग- अलग तरीके से करतें हैं पूजा
हिंदू कैलेंडर के हिसाब से सावन का महीना पांचवे नंबर पर आता है। इसे श्रावण मास भी कहा जाता है। इसी महीने से वर्षा ऋतु का प्रारंभ माना जाता है । शास्त्रों में इस महीने को बहुत पावन माना गया है। सावन का महीना भगवान शिव को समर्पित है । इस पूरे माह में कई तरह के व्रत और त्योहार पड़ते हैं। जिसमें अलग अलग तरीके से शिव और माता पार्वती की पूजा करने का विधान है।
महादेव को पंसद है सावन का महीना
महादेव को सावन का महीना बहुत पसंद है। इसके पीछे एक पौराणिक कथा है। कथा के अनुसार जब देवी सती ने अपने पिता दक्ष के घर में योग शक्ति से शरीर त्याग किया था। उससे पहले देवी सती ने महादेव को हर जन्म में पति के रूप में पाने का प्रण लिया था। अपने दूसरे जन्म में देवी सती ने हिमालय राज के घर में उनकी पुत्री पार्वती के रूप में जन्म लिया। पार्वती ने शिव को पति के रूप में पाने के लिए श्रावण महीने में निराहार रहकर कठोर व्रत किया और उन्हें प्रसन्न कर लिया। इसके बाद ही शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ। तब से महादेव को ये महीना बहुत प्रिय हो गया।
इसकी मान्यता है अलग
कहा जाता है कि सावन के महीने में महादेव बहुत प्रसन्न होते हैं और अपने भक्तों की प्रार्थना जल्दी सुन लेते हैं। इस पूरे माह में महादेव का जो भी भक्त पूरी श्रद्धा और भक्ति के साथ उनका पूजन करता है। उसकी हर मनोकामना पूरी होती है। यही वजह है महादेव के भक्त उनको मनाने के लिए पूरे मास में विशेष तौर पर उनकी पूजा करते हैं।
आपको बता दें कि वैसे तो पूरा सावन का महीना ही धार्मिक उत्सव की तरह मनाया जाता है। तमाम भक्त कांवड़ लेकर शिव जी का अभिषेक करने जाते हैं। कुछ लोग पूरे सावन माह का व्रत रखते हैं। लेकिन इस महीने के सोमवार का विशेष महत्व है। मान्यता है कि सावन के सोमवार के दिन कुंवारी लड़कियों के व्रत करने से उन्हें महादेव जैसे पति की प्राप्ति होती है। वहीं शादीशुदा लोगों के जीवन की तमाम परेशानियां दूर हो जाती है।

Related posts

दिल्ली के लक्ष्मी नगर इलाके में ढही तीन मंजिला इमारत

Srishti vishwakarma

ओडिशा कैबिनेट में बदलाव, नए चेहरे को मिली मंत्रिमंडल में जगह

kumari ashu

राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस मुख्यालय से पीएम आवास तक मार्च कर रहे दिल्ली में यूथ कांग्रेस कार्यकर्ता

Rani Naqvi