December 7, 2022 2:29 pm
देश

केंद्र सरकार की राज्यों को हिदायत, 10% से ज्यादा हो संक्रमण दर तो आवाजाही करें बंद

सावधान! यूपी के इन जिलों में फिर लग सकता है कोरोना कर्फ्यू    

देश में एकबार फिर से कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। जिसे देखते हुए सरकार ने राज्यों के हालात की समीक्षा की। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण की अध्यक्षता में हुई बैठक में केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, ओडिशा, तमिलनाडु, मिजोरम, असम, आंध्र प्रदेश, मणिपुर और मेघालय की हालत समीक्षा की गई।

कोरोना के मामले बढ़े

दरअसल ये ऐसे राज्य हैं जहां पर या तो रोज दर्ज किए गए जाने वाले कोरोना के मामले बढ़े हैं या पॉजिटिविटी रेट बढ़ा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक इन राज्यों में सर्विलांस बढ़ाने, संक्रमण को थामने और कोविड-19 मैनेजमेंट के लिए किए जाने वाले उपायों पर चर्चा हुई।

आवाजाही पर पाबंदी लगानी होगी ?

इसमें कहा गया कि जिन भी जिलों में पॉजिटिव रेट 10% से ज्यादा है उन्हें अपने यहां लोगों की आवाजाही पर पाबंदी लगानी होगी। भीड़ को जमा नहीं होने देना और लोगों को मिलने- जुलने से रोकना होगा। अगर ऐसे जिलों में जरा भी ढिलाई हुई तो हालात बेकाबू होंगे।

46 जिलों में 10% से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट

46 जिले ऐसे हैं जहां पर 10% से ज्यादा पॉजिटिविटी है। वहीं 53 जिलों में पॉजिटिविटी 5% से 10% के बीच है। जिसे देखते हुए राज्यों से टेस्टिंग बढ़ाने को भी कहा गया। ये भी पता लगा है कि देश के जिन 10 राज्यों में संक्रमण तेज हुआ है वहां पर 80% एक्टिव केस होम आइसोलेशन वाले थे।

केरल में आ रहे 20 हज़ार से ज्यादा मामले

बता दें कि केरल में बीते कुछ दिनों में रोज 20 हज़ार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में सरकार ने जिलों को सलाह दी है कि जिन भी जगहों पर एक साथ कई मामले आ रहे हैं, वहां छोटे-छोटे कंटेनमेंट जोन बनाया जाएं। इसके अलावा संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने वाले लोगों की जांच, क्वारंटाइन पर भी ध्यान रखा जाए।

Related posts

शिवराज को आई ‘मिस्ड कॉल सदस्यों’ की याद, सदस्यों का लेंगे हालचाल

mahesh yadav

राहुल गांधी का केंद्र सरकार पर हमला, बोले- खेती को बर्बाद कर देने तीनों कानून

Aman Sharma

उद्धव ठाकरे ने योगी आदित्यनाथ पर साधा निशाना, कहा- हिम्मत है तो यूपी ले जाकर दिखाएं फिल्म सिटी

Trinath Mishra