meerut 1 1 लड़की का यौन शोषण करने के लिए वसीम अहमद से बन गया दिनेश रावत..

यूपी के मेरठ जिले से दिल दहला देने वाली घटना सामने आयी है। मेरठ के लड़के ने लव जिहाद के चलते अपनी पहचान बदलकर हिन्दू लड़की का करीब दो साल तक यौन शोषण किया। इतना ही नहीं लड़की के अश्लील फोटो और वीडियो भी बनाई।मामले के सामने आते ही पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।rawa लड़की का यौन शोषण करने के लिए वसीम अहमद से बन गया दिनेश रावत..

चलिए आपको बताते हैं क्या है पूरा मामला?

मेरठ में मुंडाली थाना क्षेत्र के अजराड़ा निवासी युवक ने हापुड़ निवासी एक युवती को पहले पहचान छिपाकर लव जिहाद में फंसाया और फिर दो साल तक उसके साथ दुष्कर्म करता रहा।
दिनेश रावत के नाम से युवक मेरठ में नौचंदी थाना क्षेत्र के एक अस्पताल में नर्सिंग स्टाफ की नौकरी करता था। करीब दो साल पहले उसने हापुड़ की एक युवती से दोस्ती कर ली। उसने युवती से अपनी पहचान छिपाए रखी और वह अपने आप को दिनेश बताता रहा।

इसके बाद उसने आधार कार्ड और अन्य कागजात भी फर्जी तरीके से बनवा लिए। आरोपी दो साल तक युवती से दुष्कर्म करता रहा। फिर बाद में उसने दुष्कर्म पीड़िता के वीडियो व फोटो भी वायरल कर दिए। पीड़िता की तहरीर पर मुंडाली थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया। मुंडाली पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

एसपी देहात अविनाश पांडेय के अनुसार युवक पहले से शादीशुदा है। उसके दो बच्चे भी हैं। युवक की फेसबुक पर आईडी दिनेश रावत के नाम से है। फर्जी तरीके से आधार कार्ड व अन्य कागजात में दिनेश रावत पुत्र विजय सिंह निवासी जाकिर कॉलोनी थाना लिसाड़ी गेट नाम बदलकर वह नौचंदी क्षेत्र के एक अस्पताल में नर्सिंग स्टाफ की नौकरी करता था।

एसपी देहात अविनाश पांडेय के अनुसार आरोपी के खिलाफ दो मुकदमे दर्ज किए गए हैं। इनमें एक आईटी एक्ट का और दूसरा मुकदमा युवती ने दुष्कर्म का दर्ज कराया है।लव जिहाद के मामले को लेकर हिन्दुवादी नेताओं ने थाने का घेराव कर कार्रवाई की मांग की। मामले में दबाव के बाद पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया।

https://www.bharatkhabar.com/security-forces-launch-operation-against-terrorists-in-jk/

इसके साथ ही लव जिहाद के एक अन्य मामले में पूर्व महापौर शकुंतला भारती ने एसएसपी से मुलाकात कर कार्रवाई की मांग की।
आरोपी के पास से फर्जी तरीके से बना आधार कार्ड और अन्य दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं। बरामद मोबाइल फोन की जांच की जा रही है। जिसके बाद कई सारी जानकारी खुलकर सामने आ सकती है।

धर्मस्थलों, शॉपिंग मॉल खोलने के लिए यूपी सरकार ने जारी की गाइडलाइंस, इन नियमों का करना होगा पालन

Previous article

क्या आप जानते हैं चिंरजीवी सर्जा की लव स्टोरी और जिंदगी से जुड़े अहम किस्से ?

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in यूपी