Breaking News यूपी

कोरोना के चलते लखनऊ के बाजार बंद, धीरे-धीरे ठप हो रहा शहर

कोरोना के चलते लखनऊ के बाजार बंद, धीरे-धीरे ठप हो रहा शहर

लखनऊ: कोरोना इस कदर काल बनकर आम आदमी की जिंदगी में आ गया है कि अब सबकुछ फिर ठप होने लगा है। राजधानी लखनऊ के कई बड़े बाजार बंद कर दिए गए हैं। पूरे प्रदेश में नई लहर का असर तेजी से देखने को मिल रहा है, जिसके चलते यह कदम उठाया गया।

इन बाजारों पर हुई तालाबंदी

अमीनाबाद, हजरतगंज, भूतनाथ जैसी बड़ी मार्केट अगले कुछ दिनों तक बंद रहेंगी, यह निर्णय व्यापार मंडल के द्वारा लिया गया। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लखनऊ के व्यापारियों ने यह फैसला लिया है। झंडेवाला व्यापार व्यापार मंडल, स्टेट बैंक व्यापार मंडल और दिलदार मार्केट बाजार में भी बंदी रहेगी। 15 अप्रैल से 21 अप्रैल तक सभी बाजारों को बंद करने का फैसला लिया गया है। प्रदीप अग्रवाल, मुमताज आलम, रविंद्र गुप्ता, एबी सिंह, कनक बैग, ममता बेल्ट हाउस और गाढ़ा भंडार के विचार के बाद यह पूरा फैसला लिया गया।

18 अप्रैल तक बंद हजरतगंज बाजार

लखनऊ की विरासत और संस्कृति को समेटे हुए हजरतगंज बाजार में भी ताला लग गया। इसे 18 अप्रैल तक बंद रखने का निर्णय लिया गया है। भूतनाथ मार्केट 17 अप्रैल तक और अमीनाबाद मार्केट को भी 21 अप्रैल तक बंद करने का निर्णय लिया गया है। उत्तर प्रदेश में लगातार कोरोना का कहर देखने को मिल रहा है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी संक्रमित हो चुके हैं। छोटा बड़ा हर व्यक्ति इस वायरस की चपेट में आ रहा है। इसको देखते हुए बाजार को बंद करने का निर्णय लिया गया क्योंकि बाजार में भारी भीड़ से संक्रमण का प्रसार बढ़ जाता है।

देश में महाराष्ट्र-यूपी सबसे ज्यादा प्रभावित

देश के संक्रमित प्रदेशों की बात करें तो सबसे ज्यादा महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में इसका असर देखने को मिल रहा है। महाराष्ट्र में एक दिन में 58952 नए मामले आए और उत्तर प्रदेश में 20510 नए केस सामने आए हैं। देश के 10 राज्यों में कोरोना के 82% केस निकले हैं। जिनमें महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। दिल्ली, मध्य प्रदेश, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, गुजरात, राजस्थान में भी तेजी से मामले बढ़ रहे हैं।

Related posts

UP News: जिला क्रिकेट एसोसिएशन जालौन की 53वीं वार्षिक बैठक पुलिस लाइन में सम्पन्न

Rahul

उड़ान योजना: ठप हवाई पटि्टयों के विकास के लिए 4500 करोड़ की मंजूरी

bharatkhabar

सर्जिकल स्ट्राइक का रुस ने किया समर्थन, कहा हर देश को रक्षा करने का हक

shipra saxena