Breaking News featured देश

महाराष्ट्र हिंसा: मेवाणी ने साधा पीएम पर निशाना, कहा- अब तक चुप क्यों हैं?

pm महाराष्ट्र हिंसा: मेवाणी ने साधा पीएम पर निशाना, कहा- अब तक चुप क्यों हैं?

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के पुणे में महार दलितों और पेशवा मराठाओं के बीच फैलाी जातीय हिंसा ने राजनीतिक रुप क्या लिया हर राजनेता ने अपनी रोट्टियां सेकने के लिए तलवारे बाहर निकाल ली हैं। इसी कड़ी में दलित नेता और गुजरात के नवनिर्वाचित विधायक जिग्नेश मेवाणी ने प्रेस वार्ता कर पीएम मोदी और बीजेपी पर जमकर हमला बोला। मेवाणी ने पीएम मोदी को आडे हाथों लेते हुए कहा कि पीएम दलितों पर अत्याचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भीमा-कोरेगांव की घटना के 200 साल पूरे होने पर शांतिपूर्ण ढ़ंग से कार्यक्रम किया जा रहा था, लेकिन इसमें हिंसा भड़क गई इसलिए पीएम मोदी को इस बात का जवाब देना चाहिए।  इसी के साथ उन्होंने अपने ऊपर लगे भड़काऊं बयान देने के आरोपो को नकारते हुए कहा कि मेरा भाषण सोशल मीडिया पर हैं और उसमे ऐसा कोई शब्द नहीं है,जिससे किसी की भावना आहात होता हो। pm महाराष्ट्र हिंसा: मेवाणी ने साधा पीएम पर निशाना, कहा- अब तक चुप क्यों हैं?

इसके अलावा मेवाणी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि पीएम अब तक इस मामले पर चुप क्यों हैं? मेवाणी ने कहा कि मोदी जी के पीएम बनने के बाद रोहित वेमुला, ऊना,सहारनपुर में भीम आर्मी पर हमला और अब भीमा-कोरेगांव की घटना हुई, लेकिन पीएम ने एक भी मुद्दे पर दलितों का साथ देते हुए कुछ नहीं कहा। उन्होंने पीएम से सवालिया अंदाज में पूछा कि इस देश में दलितों का उत्पीड़ने न हो, इसके लिए मोदी जी का कोई कमिटमेंट है या नहीं। मेवाणी ने कहा कि इन घटनाओं को देखकर लगता है कि दलित इस देश में सुरक्षित नहीं है।

उन्होंने कहा कि गुजरात में 150 सीटों पर जीत दर्ज करने का दम भरने वाली बीजेपी को इतनी कम सीटों से संतुष्ट होना पड़ा है, जिसकी पीड़ा उन्हें काफी समय तक रहेगी। मेवाणी ने कहा कि इस देश में अगर एक चुने हुए प्रतिनिधि को इस तरह झूठे केसों में फंसाया जा सकता है तो आम दलित के साथ क्या-क्या होता होगा। उन्होंने कहा कि वो रैली के दौरान मंच पर तो थे, लेकिन बाद में भीमा-कोरेगांव में नहीं गए थे। अगले दिन महाराष्ट्र में दलित संगठनों द्वारा बुलाए गए विरोध बंद में भी वो नहीं पहुंचे थे। इसी के साथ उन्होंने कहा कि वो 2019 में बीजेपी को हराकर दम लेंगे।

Related posts

जहरीली शराब से मौत: 7 लोगों ने गंवाई जान, 12 से अधिक बीमार, देशी ठेके से खरीदी थी शराब

Saurabh

‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान की शुरुआत के साथ ही पीएम मोदी ने स्कूल पहुंचकर लगाई झाड़ू

rituraj

राज्यसभा में उठा EVM मुद्दा, मायावती ने दिया दिग्विजय का साथ

kumari ashu