featured यूपी

UP में कोविड अलर्ट! इन राज्‍यों से आने वाले यात्रियों की होगी कोरोना जांच

UP में कोविड अलर्ट! इन राज्‍यों से आने वाले यात्रियों की होगी कोरोना जांच

लखनऊ: उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार कोविड संक्रमण को लेकर ऐसी कोई ढील नहीं देना चाहती, जिससे प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ जाएं। इसी के मद्देनजर राज्‍य स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने निर्देश जारी किए हैं कि महाराष्‍ट्र और केरल से यूपी आने लोगों की कोरोना जांच होगी।

यह भी पढ़ें:  यूपी सिडको में खुली भ्रष्‍टाचार की पोल, तीन इंजीनियर सस्पेंड   

स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने गुरुवार को दिशा-निर्देश जारी किए हैं जिसके मुताबिक, महाराष्‍ट्र और केरल राज्‍य से उत्‍तर प्रदेश आने वाले लोगों को कोविड जांच करानी होगी। रेलवे और बस से आने वाले यात्रियों की सूची लेकर उनकी निगरानी करके कोरोना जांच कराई जाएगी। वहीं, एयरपोर्ट पर यात्रियों का एंटीजन टेस्‍ट कराया जाएगा। कोविड टेस्‍ट में पॉजिटिव आने पर नियमानुसार 14 दिन आइसोलेशन में रहना होगा, जबकि जांच रिपोर्ट निगेटिव आने पर एक सप्‍ताह के लिए क्‍वारंटीन रहना होगा।

केरल-महाराष्‍ट्र में बढ़ते मामलो को लेकर फैसला

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने जानकारी देते हुए बताया कि, यात्रियों की निगरानी व जांच का फैसला महाराष्ट्र व केरल में कोविड संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए लिया गया है। उन्‍होंने बताया कि अगर किसी यात्री में कोरोना के लक्षण मिलते हैं तो उसकी RTPCR जांच कराई जाएगी।

यात्रियों से की आने की जानकारी देने की अपील

अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि, सीएमओ (मुख्य चिकित्सा अधिकारी) अपने स्तर से एयरपोर्ट, बस और रेलवे स्टेशन से महाराष्‍ट्र और केरल राज्यों से आने वाले यात्रियों की सूची जिला सर्विलांस दलों को उपलब्ध कराएंगे, जिससे इनके सर्विलांस, क्वारंटीन और जांच की व्यवस्था हो सके। इसके अलावा यात्रियों से भी अपील की गई है कि वह मुख्‍य चिकित्सा अधिकारी को स्वयं के आने की जानकारी खुद ही उपलब्ध कराएं।

नगर व ग्रामीण क्षेत्रों पर भी नजर रखने के निर्देश

उन्‍होंने बताया कि, नगरीय क्षेत्रों में मोहल्ला निगरानी समिति और ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम निगरानी समितियों को भी इन राज्यों से आने वाले लोगों पर नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं। अगर किसी यात्री में कोरोना के लक्षण पाए जाते हैं और वह क्वारंटीन के नियमों का पालन नहीं करता है तो इसकी जानकारी जिला सर्विंलांस अधिकारी, जिला कोविड कमांड सेंटर और नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर देने के कहा गया है।

Related posts

चीन से बढ़ते तनाव के बीच पीएम मोदी ने तीनों सेना प्रमुखों के साथ की अहम बैठक

Rani Naqvi

जारी होने वाले 500 और 2000 के नोट होंगे टेक्नोफ्रेंडली

Rahul srivastava

मोदी से मिले दक्षिण अफ्रीका के उपराष्ट्रपति

bharatkhabar