दोनों करते थे बेपनाह प्यार पर नहीं हुई हेमा और जितेंद्र की शादी

नई दिल्ली। बॉलीवुड में अपनी दमदार एक्टिंग का लोहा मनवाने वाले अभ‍िनेता जितेंद्र एक समय में बॉलीवुड फिल्मों में छाए हुए थें और उससे भी ज्यादा छाई हुई थी उनकी पर्सनल लाइफ जो कि हमेशा चर्चा में रहती थी। 7 अप्रैल, 1942 को अमृतसर में एक बिजनेस फैमिली में जितेंद्र का जन्म हुआ था। जो आज अपना बर्थडे मना रहे हैं आज हम आपके लिए जितेंद्र की जिदंगी की एक ऐसी घटना को लेकर आए हैं जिसकी वजह से वो आज तक चर्चा में रहे हैं।

जी हां बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी को कौन नहीं जानता हर कोई उऩसे उस समय में प्यार कर बैठा था उनकी मासूमियत भरी अदा ने सबका दिल जीत लिया था और वो ही हुआ जितेंद्र के साथ जितेंद्र भी हेमा मालिनी को दिल दे बैठे थे और ना सिर्फ जितेंद्र बल्कि हेमा भी उऩ्हें अपने दिल में बसा चुकी थी और दोनों शादी करना चाहते हैं पर उनकी शादी ना हो पाई।

फिल्म ‘दुल्हन’ की शूटिंग के दौरान जितेंद्र, हेमा मालिनी एक दूसरे के दिवाने हो गए थे और दोनों एक दूसरे को बेपनाह प्यार करने लगे थे। दोनों ने शादी करने का फैसला भी कर लिया था लेकिन बता दे कि उस समय जितेंद्र अपनी बचपन की दोस्त शोभा कपूर से मंगनी कर चुके थए जिसकी वजह से उन्होंने धर्मेंद्र को हेमा को समझाने की जिम्मेदारी सौंपी।
बता दे कि दोनों की जोड़ी कई फिल्मों में अपना कमाल दिखा चुकी हैं और 1974 में ‘वारिस’ और ‘गहरी चाल जैसी फिल्मों से दोनों को ऑऩ स्क्रीन भी लोग काफी पसंद करने लगे थे। और यें जोड़ी काफी हिट हो चुकी थी जिसके बाद इन्होनें शादी करने का फैसला किया।

संजीव कुमार की वजह से आए दोनों पास
हेमा मालिनी उस समय ड्रीम गर्ल के नाम से जानी जाती थी और बहुत से लोग हेमा को पसंद करते थे संजीव कुमार भी उन्ही में से एक थे जो हेमा को काफी पसंद करते थें और संजीव कुमार जितेंद्र के दोस्त थे जो अपने प्यार का इजहार यानि कि हेमा मालिनी से करने के लिए जितेंद्र की मदद ले रहे थे। हेमा मालिनी ने संजीव कुमार के प्रेम-प्रस्ताव को तो स्वीकार नहीं किया, लेकिन वह जितेंद्र के साथ प्यार में पड़ गईं।

बता दे कि दोनों के परिवार उनकी शादी के लिए भी तैयार थें और दोनों ही एक दूसरे से शादी करने के लिए तैयार थें लेकिन जितेंद्र उस समय शोभा को भी डेट कर रहे थे जो उनके बचपन की दोस्त थीं। जब शौभा को इस बात का पता चला तो शौभा ने धर्मेंद्र के जरिए हेमा को समझाने की कोश‍िश की पर यहां धर्मेंद्र खुद हेमा को प्यार करते थे और हेमा से शादी करना चाहते हैं इसलिए धर्मेंद्र  ने शादी टालने में कोई असर नहीं छोड़ी।

जितेंद्र हेमा से शादी करने के लिए उनके परिवार से मिलने पहुंचे जहां धर्मेंद्र का फोन आया और धर्मेंद्र ने कहा कि वो हेमा से शादी करना चाहते हैं तब हेमा ने कहा कि वो उनसे मिलना चाहती हैं बता दे कि धर्मेंद्र की पत्नी उन्हें तलाक देने से इंकार कर चुकी थीं इसलिए धर्मेंद्र ने इस्लाम कबूल कर लिया ताकि वो हेमा से शादी कर सकें और हेमा ने जितेंद्र से शादी करने की जगह धर्मेंद्र  से कर ली।

जितेंद्र ने अपने करियर में कई फिल्में की हैं और सुपर डुपर हिट हिरों के तौर पर उभरे पर वो अपनी जिंदगी में अपना प्यार हासिल नहीं कर पाए हालाकिं जितेंद्र ने अपने करियर में हेमा के साथ कई फिल्में दी जैसें वारिस (1969), भाई हो तो ऐसा (1972), गरम मसाला (1972), गहरी चाल (1973)  जैसी कई फिल्में की हैं।