September 21, 2021 4:57 pm
featured यूपी

फतेहपुर:  ग्राम पंचायतों में खर्च धनराशि की जांच, 21 ग्राम पंचायत में होगी जांच, जाने क्या है मामला

फतेहपुर:  ग्राम पंचायतों में खर्च धनराशि की जांच, 21 ग्राम पंचायत में होगी जांच, जाने क्या है मामला

फतेहपुर: ग्राम प्रधानों का कार्यकाल समाप्त होने के बाद एक जनवरी 2021 से 31 मई 2021 तक विकास कार्यों के लिए प्रशासकों को नियुक्त किया गया था। इस दौरान 25 लाख रुपये से अधिक धनराशि खर्च करने वाले सभी प्रशासकों के खिलाफ जांच के निर्देश दिए गए हैं। इसके लिए 11 विकासखंडों में जांच अधिकारी तैनात किए गए हैं। इन सभी को एक सप्ताह के अंदर जांच रिपोर्ट सौंपनी है। मामले पर जिला पंचायत राज अधिकारी अनिल कुमार त्रिपाठी ने बताया कि जांच के लिए नियुक्त अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।

लाखों के खर्च के जांच के आदेश

खर्च करने वालों में असोथर विकासखंड स्थित कोर्रा कनक गांव में 35 लाख 89 हजार 582, बेसडी गांव में 27 लाख 57 हजार 186 रुपये, अमौली विकासखंड स्थित गोहरारी में 48 लाख 13 हजार 770, सरहन बुजुर्ग में 34 लाख 19 हजार 245, धमना खुर्द में 25 लाख 97 हजार 707, देवमई विकासखंड के देवमई गांव में 48 लाख आठ हजार 51 रुपये खर्च किये गए हैं।

जबकि बहुआ विकासखंड के शाह, गम्हरी, और गाजीपुर गांव में क्रमशः 46 लाख 27 हजार 445, 37 लाख 83 हजार 704, 25 लाख 37 हजार 780 रुपये की धनराशि निकाली गई थी।

धाता के कारिकान गांव में 45 लाख 85 हजार 549, हसवा विकासखंड स्थित रामपुर थरियांव में 42 लाख 54 हजार 153, औरैई गांव में 31 लाख 5 हजार 581 रुपये निकली गयी है। बहरामपुर में 30 लाख 75 हजार 463 रुपये खर्च किये गए हैं। रमवां पंथुआ में 29 लाख 29 हजार 732, सातों धरमपुर में 26 लाख 11 हजार 071, मलवां विकासखंड के गुनीर में 30 लाख 85 हजार 132, जफराबाद में 39 लाख 34 हजार 804, ऐरायां विकासखंड के पुरइन गांव में 36 लाख 14 हजार 762 रुपये खर्च किये गए। इसी तरह तेलियानी विकासखंड के कांधी गांव में 33 लाख 90 हजार 778, हथगाम विकासखंड के संवत में 27 लाख 25 हजार 509 और विजयीपुर विकासखंड के गढ़ा गांव में 25 लाख छ: हजार 522 रुपये की धनराशि निकली गयी है।

जिले भर के 11 विकासखंड के 21 गांवों में खर्च हुए धनराशि की जांच के लिए निर्देश दिए जा चुके हैं। जांच टीम को एक सप्ताह के अंदर भौतिक सत्यापन करते हुए रिपोर्ट सौंपनी है। शासन के निर्देशानुसार आगे की कानूनी कार्रवाई होगी।

Related posts

चीन में तबाही मचाने दोबारा लौटा कोरोना, दुनिया की बड़ी टेंशन..

Mamta Gautam

यूपी में जनसंख्या नियंत्रण विधेयक, ध्‍यान से पढ़ लीजिए इसके महत्‍वपूर्ण बिंदु

Shailendra Singh

राजनाथ ने किया बीएसएफ को संबोधित, नक्सली खत्म होने की कगार पर

lucknow bureua