nepal 2 भारत के हिस्सों को अपना बताकर बुरा फंसा नेपाल..

कुछ दिनों से पड़ोसी मुल्क नेपाल के तेवर बहले हुए है। एक समय भारत को अच्छा दोस्त रहे नेपाल को अचानक से अपने हिस्सों की याद आ गई है। और उसने नया नक्शा बनाकर संसद में नक्शे को पास करा दिया है। नेपाल की इस हरकत से भारत बहुत नाराज है। कहा जा रहा है नेपाल ये सब चीन के कहने पर कर रहा है।

nepal 1 2 भारत के हिस्सों को अपना बताकर बुरा फंसा नेपाल..
इसीलिए उसने संसद में ये नक्शा पास कराया है। भारत ने नेपाल सरकार की तरफ से लाये गये इस प्रस्ताव के पारित पर होने पर अपना कड़ा ऐतराज जताया है। भारत ने फिर दोहराया है कि लिपुलेख, कालापानी व लिपिंयाधुरा पर नेपाल के दावे के पीछे कोई साक्ष्य नहीं है।

यह नेपाल को लेकर भारत के विदेश मंत्रालय में उपज रहे गुस्से को भी बताता है। जानकार मान रहे हैं कि नेपाल ने भारतीय जमीन को अपने आधिकारिक मानचित्र में शामिल कर इस समस्या का कूटनीतिक समाधान निकालने के रास्ते काफी संकुचित कर दिए हैं।

ऐसे में दोनो देशों की तरफ से सीमा विवाद सुलझाने के लिए गठित विशेष समिति के भविष्य पर भी सवाल लग गया है।नए नक्शे में भारत के उत्तराखंड राज्य के लिपुलेख, कालापानी व लिपिंयाधुरा को शामिल कर लिया गया है। नेपाल का कहना है कि 60 के दशक में भारत ने इन पर कब्जा जमा लिया था।

https://www.bharatkhabar.com/beela-rajesh-is-out-of-the-battle-of-covid-19/
जबकि भारत का कहना है कि सारे ऐतिहासिक दस्तावेज साबित करते हैं कि ये हिस्से हमेशा से भारत में शामिल में रहे हैं। हाल ही में भारत ने इन क्षेत्रों को पक्की सड़कों से जोड़ा है।
नेपाल की इस हरकत ने भारत और नेपाल के रिश्ते खराब कर दिए हैं। जो आने वाले समय में और भई ज्यादा बिगड़ सकते हैं।

मध्य प्रदेश के राज्यपाल लाल जी टंडन अस्पताल में भर्ती,जानिए कैसी है हालत?

Previous article

अनामिका शुक्ला की तरह यूपी में एक और निकला शिक्षक घोटाला..

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured