September 28, 2022 3:38 am
featured देश

दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए जिला प्रशासन ने दिल्ली के छह नए इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया

दिल्ली. सील दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए जिला प्रशासन ने दिल्ली के छह नए इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया

नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए जिला प्रशासन ने छह नए इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया है। दिल्ली में अब कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 30 हो गई है। शुक्रवार को घोषित कंटेनमेंट जोन घोषित किए गए इलाकों में नबी करीब, ई पॉकेट जीटीबी एन्कलेव, जाकिर नगर की गली नंबर 18 से 22 तक और अबु बकर मस्जिद और जाकिर नगर के आस-पास के इलाके शामिल हैं। कंटेनमेंट जोन घोषित होने के बाद पूरे इलाके को सील कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि यहां पर कोरोना संक्रमण के कई मामले सामने आ चुके हैं।  

बता दें कि शाहीन बाग से सटे जाकिर नगर में कुछ अंतराल पर अलग-अलग जगहों से कोरोना के छह पॉजिटिव केस मिले हैं। नए मामले सामने आने के बाद इन सभी गलियों कोसील कर दिया गया है। शुक्रवार शाम को दिल्ली के उपराज्यपाल ने इससे संबंधित एक नोटिफिकेशन जारी करते हुए इसकी सूचना दी। इसके बाद वहां सभी दुकानों को बंद करा दिया गया।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि जाकिर नगर में गली नंबर 18 से लेकर 22 तक शुक्रवार को छह लोग कोरोना वायरस से संक्रमित मिले। इसके बाद उन्हें अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया हैं। इन सभी के स्वजनों की जांच की जा रही है और उनके स्वजनों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। पुलिस ने इन सभी लोगों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाने में जुटी हुई है, जिससे उन सभी लोगों तक पहुंचकर उनकी जांच की जा सके। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि फिलहाल मरीजों के स्वजनों से पूछताछ की जा रही है। इन गलियों को सील कर दिया गया है और वहां अब किसी की भी एंट्री नहीं है।

दिल्ली 2 दिल्ली में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए जिला प्रशासन ने दिल्ली के छह नए इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया

मंडोली जेल में बने क्वारंटाइन सेंटर में रखे गए चार जमाती कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। शुक्रवार को आई रिपोर्ट में इसकी पुष्टि हुई है। इन्हें अब अस्पताल में भर्ती किया जाएगा। मंडोली जेल के क्वारंटाइन सेंटर में कुल 96 लोगों को रखा गया था। इसमें 89 तब्लीगी जमात से जुड़े लोग थे। बाद में एक मरीज को बीमारी के कारण एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती किया गया था। अब यहां 95 लोग हैं। इनमें चार की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। हालांकि, इनमें कोई लक्षण नजर नहीं आ रहे हैं, लेकिन इन सभी को अस्पताल में भर्ती किया जाएगा।

Related posts

शिवराज चौहान बोले बिना आवेदन के ही भाई का कर्ज क्यों किया माफ? क्या है इसके पीछे की वजह?

bharatkhabar

अब आधार कार्ड से लिंक कराना होगा ये जरूरी दस्तावेज भी

Rani Naqvi

बारिश के मौसम में भूलकर भी न खाएं ये चीजें, वरना…  

Shailendra Singh