वाराणसी में व्यापारियों ने लिया ये बड़ा फैसला, जानिए आप पर क्या होगा इसका असर

वाराणसी: बाबा विश्वनाथ की नगरी वाराणसी में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बनारस के व्यापारियों ने नई पहल की हैथ। जिले के व्यापारियों ने कोविड 19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए तय किया है कि व्यापारी वाराणसी में शनिवार और रविवार को अपनी दुकाने बंद रखेंगे।

 प्रशासन से मिलकर बनाएंगे अगली रणनीति

इसके अलावा व्यापारियों ने ये भी फैसला किया है कि वो जिला प्रशासन के साथ बैठक करके आगे की बंदी पर भी विचार करेंगे। व्यापारियों ने कहा कि अगर कोरोना की यही रफ्तार रही तो आगे की बाजार बंदी पर भी विचार किया जा सकता है।

पुलिस कमिश्नर ने की थी अपील

बता दें कि वाराणसी के पुलिस कमिश्नर ने व्यापारियों ने जिला प्रशासन को सहयोग करने की अपील की थी। पुलिस कमिश्नर की अपील के बाद जिले के व्यापारियों ने शहर को कोविड संक्रमण से बचाने के लिए अपनी दुकानों को साप्ताहिक में दो दिन बंद करने का फैसला लिया है।

व्यापारियों ने सर्वसम्मति से लिया फैसला

ये फैसला वाराणसी व्यापार मंडल ने सर्वसम्मति से लिया है। व्यापारियों ने कहा कि पूरे देश और यूपी में कोरोना का कहर देखने को मिल रहा है।

बाबा विश्वनाथ की नगरी भी इससे अछूती नहीं है। ऐसे में अपने को और शहर की जनता को बचाने के लिए ये फैसला किया गया है। जैसे ही स्थिति सामान्य होगी दुकानों को फिर से पहले की ही तरह से खोल दिया जाएगा।

वाराणसी में डरा रहा कोरोना

बता दें कि राजधानी लखनऊ के साथ साथ वाराणसी में भी कोरोना का कहर देखने को मिल रहा है। जिले के बीएचयू यानि बनारस हिंदू विश्वविद्यालय स्थित मेडिकल कॉलेज में कोविड के हजारों मरीज अपना इलाज करा रहे हैं। वहीं सरकारी और निजी अस्पतालों में कोरोना के कारण बेड फुल हैं।

यूपी के कुछ अस्पतालों में तो लोगों का इलाज अस्पताल के परिसर के अंदर ही चादर बिछाकर या स्ट्रेचर पर ही किया जा रहा है। कोरोना के मरीजों के कारण पूरे यूपी की मेडिकल व्यवस्था पूरी तरीके से चरमरा गई है।

कोरोना ने यूपी में फिर तोड़ा पिछला रिकॉर्ड, राजधानी लखनऊ का हाल भी भयावह!

Previous article

कोरोना की बेकाबू रफतार ने तोड़े सभी रिकॉर्ड, 24 घंटे में 2 लाख से ज्यादा नए केस

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured