हनुमान जयंती पर ऐसे करे पूजा-मिलेगा लाभ

नई दिल्ली हनुमान जयंती का भारत में एक विशेष महत्व हैं जिसे लोग बड़ी ही श्रध्दा के साथ मनाते हैं। इस बार हनुमान जयंती 31 मार्च को पड़ रही हैं हनुमान जयंती मंगलवार और शनिवार में से किसी भी दिन पड़ सकती हैं। शनिवार और मंगलवार दोनों ही हनुमान जी की पूजा के लिए सही और उचित दिन माने जाते हैं। इस दिन बंजरंग बली की पूजा से सभी प्रकार के भय और कष्टों से मुक्ति मिलती है। इसलिए हनुमान जयंती के दिन व्रत पूजा और विभिन्न उपाय करने से बजरंग बली की कृपा जरूर मिलती है।

शनिवार का दिन हनुमानजी और शनि के भक्तों के लिए खास है। शनिवार के दिन हनुमान जी की जयंती है। इस शुभ योग में भगवान हनुमान की पूजा के साथ शनिदेव का भी आशीर्वाद मिल सकता है। ऐसी मान्यता है जो लोग नियमित तौर पर हनुमानजी की भक्ति में लीन रहते हैं उन्हें शनिदेव कभी भी परेशान नहीं करते हैं। इस बार हनुमान जी की जयंती शनिवार के दिन पड़ रही है। इस दिन कुछ उपाय करने से हनुमान जी के साथ शनिदेव भी प्रसन्न होंगे और सारे बिगड़े काम बन सकते हैं।हनुमान जयंती के मौके पर परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए हनुमान चालीसा और सुंदरकांड का पाठ करना शुभ रहेगा।

हनुमान जयंती पर भगवान हनुमान की प्रतिमा के सामने तेल का दीपक जरूर जलाएं फिर इसके बाद शनि मंदिर जाकर उन्हें भी तेल का दीपक अर्पित करें। हनुमान जी पूजा में प्रसाद के रुप में गुड़, घी और नारियल का भोग जरूर लगाएं। ऐसा करने से हनुमान जी प्रसन्न होते हैं।  हनुमान जयंती पर भगवान शनि की कृपा पाने के लिए पीपल के पेड़ के नीचे तेल का दीपक जरूर जलाना चाहिए।हनुमान जयंती और शनिवार के शुभ योग के चलते इस दिन हनुमान जी की पूजा करने के बाद गरीबों को भोजन खिलाएं और दान दें। तो हमारें बताए गए इन नियमों के अगर आप पूजा करते हैं तो आपको इसका लाभ मिलेगा। ।