featured धर्म

कोरोना के बीच मनाया जा रहा गणपति उत्सव, जाने कैसे हैं देश के हालात

up2208cc कोरोना के बीच मनाया जा रहा गणपति उत्सव, जाने कैसे हैं देश के हालात

कोरोना के बीच गणपति उत्सव की तैयारियां शुरू हो गई है। हालांकि अभी हालात सही है लेकिन कोरोना का असर गणपति महोत्सव पर भी पड़ा है। जिससे कि मूर्तिकारों के लिए ये उत्सव फीका पड़ता दिखाई दे रहा है। मूर्तिकारो ने अलग अलग डिजाइन की भगवान गणेश की मूर्तियां बनाई है जिसमे बाल रूप से लेकर अन्य रूपो की छोटी से बड़ी सभी मूर्तियां तैयार की है। मूर्तियों को तैयार कर बेचने बैठे शिल्पकारों का कहना है कि खरीदार बहुत कम पहुंच रहे है जिससे कि मुर्तिया नही बिक पा रही है इससे इन कारोबारियों में बेचनी हैं कि कैसे लागत खर्च पूरा होगा ।

बता दें कि कोरोना के बीच गणपति महोत्सव। परिवार समेत मूर्तिकार दिन रात मूर्तिया बनाने के काम मे लगे हैं। लेकिन कोरोना ने उनके काम पर भी असर डाला है। पिछले साल भी कोरोना की मार उनके काम पर पड़ी और इस बार भी बहुत कम खरीदार आ रहे है । ज्यादतर लोग अपने घरों के लिए छोटी छोटी गणपति की मूर्तियां खरीद रहे हैं। 151 रुपए की मूर्ति से लेकर 15 हज़ार तक कि मूर्तियां हैं। लेकिन बड़ी मूर्तियों के खरीदार बहुत ही कम है। 6 महीने से हम मूर्तिया बना रहे हैं पिछली बार घरों के लिए लोगो ने खरीददारी की थी। हम बहुत मेहनत करते है अब बेचने का समय आया है तो ख़रीददार नही है। भगवान गणपति कृपा करेंगे तो ग्राहक भी आएंगे।अभी तो हमे ग्राहकों का इंतजार करना पड़ रहा है।

navbharat times 2 1 कोरोना के बीच मनाया जा रहा गणपति उत्सव, जाने कैसे हैं देश के हालात

वही लोगों में गणपति उत्सव को लेकर बड़ी आस्था है। जिसके चलते लोग घरों के लिए गणपति की मूर्तियां खरीद रहे है। जहां मूर्तिकार मूर्तियों को फाइनल टच दे रहे है। वही भगवान गणेश में आस्था रखने वाली दो बच्चियों ने भी डॉक्टर के रूप में गणपति की मूर्ति को तैयार करवाया है और उसे खुद ही रंगों के साथ फाइनल टच दे रही है। गणपति को डॉक्टर के रूप में फाइनल टच दे रही वासवी ने बताया कि कई वर्षों से घर मे गणपति को लाते है। कोरोना में डॉक्टर्स ने सबकी ज़िन्दगी बचाने का काम किया। इसलिए हमने गणेश जी को डॉक्टर रूप में बनवाया है। कोरोना के चलते केवल हम परिवार के लोग ही पूजन करेंगे आसपड़ोस और किसी रिश्तेदार को नही बुलायेंगे।

navbharat times 1 5 कोरोना के बीच मनाया जा रहा गणपति उत्सव, जाने कैसे हैं देश के हालात

हम आपको बता दे कि देश में गणेश चतुर्थी का पर्व धुम धाम से मनाया जा रहा है। इस ख़ास दिन ब्रह्म और रवियोग में भगवान गणेश की स्थापना और पूजा की जाती है। श्रद्धालु व्रत-उपवास भी रखेंगें। गणेश जी का दिन होने और शुभ संयोग बनने से इस दिन खरीदारी और नए कामों की शुरुआत भी सफलता देने वाली रहेगी। विसर्जन यानी अनंत चतुर्दशी तक खरीदारी और नए कामों की शुरुआत के लिए 9 दिन शुभ रहेंगे।

 

ज्योतिषियों के अनुसार इस बार शुभ संयोग है इससे सुख और समृद्धि बढ़ेगी 10 सितंबर को गणेश चतुर्थी के दिन विशेष योग संयोग में गहने, वाहनों और नई प्रॉपर्टी की खरीद या फ्लैट बुक कराना फायदेमंद रहेगा। साथ ही इस दिन नए कामों की शुरुआत करना भी सफलतादायक रहेगा। 10 से 19 सितंबर तक तिथि, वार और नक्षत्रों से मिलकर ब्रह्म, सर्वार्थसिद्धि, राजयोग, द्विपुष्कर, कुमार और रवियोग बन रहे हैं। इन शुभ संयोगों से सुख और समृद्धि बढ़ेगी।

Related posts

राजस्थान में दो दिन में हाईवे की शुरूआत

mohini kushwaha

10 लाख ब्रिटिश नागरिक चाहते हैं दूसरा जनमत संग्रह

bharatkhabar

पाक बैट टीम ने आतंकियों के साथ मिलकर की घुसपैठ, जवानों ने खदेड़ा

Pradeep sharma