हरदोई में किसानों ने किया जल सत्याग्रह, जानें क्या है उनकी मांगें

हरदोई। जिले में सड़क निर्माण की मांग को लेकर बुधवार को किसान यूनियन ने जल सत्याग्रह किया। इस दौरान बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी किसान मौजूद रहे। सभी ने पानी में खड़े होकर सत्याग्रह किया और प्रशासन को जगाने का प्रयास किया।

तीन घंटे चला प्रदर्शन, घंटों बाद पहुंचे तहसीलदार

इस दौरान किसानों का जल सत्याग्रह तीन घंटे तक चलता रहा, लेकिन कोई अधिकारी उनका हालचाल लेने नहीं आया। इसके तीन घंटे बाद तहसीलदार सदर मौके पर पहुंचे और किसानों से बातचीत की। किसानों का ये प्रदर्शन गोमती नदी के कुल्लहावर घाट में बीच नदी में घंटों चलता रहा, इस प्रदर्शन में महिलाएं भी शामिल हुईं।

खस्ताहाल मार्ग पर आए दिन होते हैं हादसे

पूरा मामला जिले के पिहानी बूढ़ागांव महोली इलाके का है। यहां पर काफी दिनों से एक मुख्य मार्ग जर्जर है। ये सड़क गड्ढों से भरी हुई है। इससे यहां आए दिन हादसे होते रहते हैं। वहीं यहां रहने वाले लोगों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

सीतापुर से जोड़ने वाला मार्ग है जर्जर

बता दें कि हरदोई से पिहानी बूढ़ागांव महोली होते हुए सीतापुर जिले को जोड़ने वाला मार्ग पूरी तरीके से जर्जर है। आंदोलनकारियों ने बताया कि 24 किलोमीटर लम्बा ये मार्ग बदहाल है।

इस खस्ताहाल मार्ग का आठ किलोमीटर हरदोई में जबकि शेष 16 किलोमीटर सीतापुर जनपद में आता है। 326 गांवों के हजारों गन्ने से लदे ट्रक इसी बदहाल मार्ग से होकर गुजरते हैं। वहीं सैकड़ों गांवों के अन्य हजारों लोग भी इस जर्जर मार्ग के कारण आ रही समस्याओं का सामना कर रहे हैं।

‘चार साल से नहीं बनी है सड़क’

भारतीय किसान यूनियन के नेता ने कहा कि एक तरफ सरकार सड़कों को गड्ढामुक्त करने का दावा पेश कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ कई वर्षों से ये सड़क बदहाल पड़ी है।

उन्होंने कहा कि 24 किलोमीटर लम्बा बदहाल मार्ग सरकार के दावों की पोल खोल रहा है। उन्होंने बताया कि पिछले चार साल से ये सड़क नहीं बनी है।

26 मार्च को प्रदोष व्रत, जानें शुभ मुहूर्त और महत्व ?

Previous article

अब दिल्ली में भू-माफियाओं पर सीएम योगी का एक्‍शन, खाली कराई सरकारी जमीन

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured