featured देश हेल्थ

Eye Flu Case In India: इन राज्यों में बढ़ रहे Eye Flu के मामले, क्या है लक्षण और कैसे करें बचाव? आइए जानें

eye 3 Eye Flu Case In India: इन राज्यों में बढ़ रहे Eye Flu के मामले, क्या है लक्षण और कैसे करें बचाव? आइए जानें

Eye Flu Case In India: देश में आई फ्लू के मामले तेजी से बढ़ रहे है। बदलते मौसम से आई फ्लू के दस्तक ने बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक को बीमार कर दिया है। देश के लगभग हर राज्यों से आई फ्लू के केस सामने आ रहे हैं।

ये भी पढ़ें :-

Share Market Today: शेयर बाजार में कमजोर शुरूआत, सेंसेक्स और निफ्टी ने गिरावट दर्ज

छत्तीसगढ़ के उपमुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव के अनुसार 28 जुलाई तक में छत्तीसगढ़ में ‘आई फ्लू’ के 19,873 मामले दर्ज किए जा चुके थे। इस वायरस से संक्रमित लोग तीन से सात दिन में ठीक हो रहे हैं। वहीं राजधानी दिल्ली के भी अस्पतालों में आंखों के संक्रमण के मामलों में वृद्धि देखी जा रही है। रिपोर्ट के अनुसार एम्स में हर रोज लगभग 100 आई फ्लू मरीजों के मामले सामने आ रहे हैं।

आई फ्लू के लक्षण

  • आंखों में रेडनेस, पलकों का चिपकना, पानी बहना, आंखों में सूजन, आंखों में जलन।

इस फ्लू से खुद को बचाने के उपाय

  • मानसून के मौसम में इस फ्लू के बचने के लिए अपनी आंखों को बार बार छूने से बचना चाहिए।
  • अगर किसी व्यक्ति के आंखों से पानी निकल रहा है तो उसे हाथ से पोंछने की जगह साफ कपड़ा या टिशू का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • इस मौसम में खुद की आंखों का ख्याल रखने के लिए दिन में कम से कम दो बार अपनी आंखों की सिकाई करनी चाहिए। इसके लिए आप गर्म रुमाल का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसके अलावा हाथों को सेनेटाइज करते रहना, चश्मा पहनकर घर से बाहर निकलना, किसी और के चश्मे को पहनना या दूसरे व्यक्ति के रुमाल या गमछे के इस्तेमाल से बचना चाहिए।

आई फ्लू के दौरान किन चीजों को नहीं खाना चाहिए

  • मसालेदार और गर्म भोजन
  • नमकीन फूड
  • खट्टे फल
  • डेयरी उत्पाद
  • तला हुआ और चिकना भोजन
  • प्रोसेस्ड और पैकेज्ड फूड
  • शराब और कैफीन वाले ड्रिंक्स

Related posts

पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक मामले में पंजाब DGP समेत 13 वरिष्ठ अधिकारी किए गए तलब

Neetu Rajbhar

योगी सरकार ने किया 100 दिन में 100 फरेब बोली कांग्रेस

piyush shukla

तीन साल पूरे होने के बाद इलेक्शन मोड में उत्तराखंड सरकार, 13 फरवरी को सरकारी आवास पर सम्मेलन

Rani Naqvi