featured देश राज्य

समाधि स्थल मामले पर मद्रास हाईकोर्ट का फैसला- मरीना बीच पर होगा करुणानिधि का अंतिम संस्कार

karuna nidhi समाधि स्थल मामले पर मद्रास हाईकोर्ट का फैसला- मरीना बीच पर होगा करुणानिधि का अंतिम संस्कार

नई दिल्ली : तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और DMK प्रमुख एम. करुणानिधि का मंगलवार शाम 94 साल की उम्र में निधन हो गया। करुणानिधि के निधन के साथ ही तमिलनाडु समेत पूरे देश में शोक की लहर है। राज्य में एक दिन का अवकाश और सात दिन का शोक घोषित किया गया है।

समाधि स्थल मामले पर मद्रास हाईकोर्ट का फैसला- मरीना बीच पर होगा करुणानिधि का अंतिम संस्कार
समाधि स्थल मामले पर मद्रास हाईकोर्ट का फैसला- मरीना बीच पर होगा करुणानिधि का अंतिम संस्कार

पुलिस ने किया लाठीचार्ज

वहीं करुणानिधि के निधन की खबर आते ही डीएमके समर्थक सड़कों पर रोते और बिलखते नजर आए। इस दौरान अंतिम दर्शन के लिए चेन्नई पहुंचे समर्थक बेकाबू भी हो गए, जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। करुणानिधि के निधन के बाद उनको दफनाने को लेकर भी विवाद हुआ। करुणानिधि की पार्टी और उनके समर्थकों ने मांग की है कि उन्हें चेन्नई के मशहूर मरीना बीच पर दफनाया जाए और उनका समाधि स्थल भी बने।

आज सुबह मद्रास हाईकोर्ट में हुई सुनवाई 

वहीं तमिलनाडु सरकार ने ऐसा करने से इनकार किया है। इसी को लेकर आज सुबह मद्रास हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। मद्रास हाईकोर्ट ने मरीना बीच पर ही करुणानिधि के अंतिम संस्कार की इजाजत दे दी है। इस दौरान कोर्ट में सुनवाई के दौरान तमिलनाडु सरकार ने डीएमके की मांग के खिलाफ हलफनामा दिया है। सरकार की ओर से कहा गया है कि हमने दो एकड़ जमीन और राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार करने का वादा किया है।

सरकार ने किया था विरोध

मद्रास हाईकोर्ट में पिछले साल डाली गई सभी 6 याचिकाओं को खारिज किया गया है। इन याचिकाओं में मरीना बीच पर किसी भी तरह के समाधि स्थल बनाने का विरोध किया गया था। एक्टिविस्ट ट्रैफिक रामास्वामी ने कहा है कि अगर करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाया जाता है, तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं है।

सरकार मरीना बीच पर जमीन देने से किया इनकार

हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान तमिलनाडु सरकार ने कहा है कि जब करुणानिधि मुख्यमंत्री थे, तब उन्होंने जानकी रामाचंद्रन को भी मरीना बीच पर जगह नहीं दी थी। डीएमके सरकार के द्वारा जारी प्रेस रिलीज़ का विरोध नहीं कर सकती है।

by ankit tripathi

Related posts

कोरोना काल में पलायन कर रहे लोगों की साथ ही बनी योगी सरकार, लोगों को वापस लौटाने के लिए संतोषजनक रहे प्रयास

Neetu Rajbhar

इंडस्ट्री के लिए एक और झटका, डॉ. हाथी के बाद अब रीता भादुड़ी का हुआ निधन

mohini kushwaha

Viral: छोटे देश के बड़े दिलवाले लोग, कोरोना काल में भारत इस अंदाज में भेजी मदद

Shailendra Singh