August 15, 2022 12:57 am
featured यूपी

केन-बेतवा के जुड़ने से बदलेगी बुंदेलखंड की किस्मत, अटल स्वप्न होगा साकार

केन-बेतवा के जुड़ने से बदलेगी बुंदेलखंड की किस्मत, अटल स्वप्न होगा साकार

लखनऊ: केन-बेतवा नदियों के जुड़ने से बुंदेलखंड क्षेत्र में बड़े बदलाव आएंगे। इस परियोजना को हरी झंडी मिल चुकी है। इससे प्रदेश के कई जिलों को सीधा फायदा होगा।

प्रदेश को मिलेगा 1700 एमसीएम पानी

इस लिंक परियोजना के पूरा होने के बाद उत्तर प्रदेश को पानी की कमी से नहीं जूझना पड़ेगा। साथ ही किसानों को भी बड़ी मदद मिलने वाले हैं। इस परियोजना के माध्यम से 2.5 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बेहतर सिंचाई की सुविधा हो जाएगी।

साकार होने जा रहा अटल संकल्प

प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की नदी जोड़ो परियोजना की कल्पना पूरी होने जा रही है। राष्ट्रीय माध्यमिक योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की केन-बेतवा नदियों को जोड़ने के साथ होगी।

केन-बेतवा के जुड़ने से बदलेगी बुंदेलखंड की किस्मत, अटल स्वप्न होगा साकार

विश्व जल दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में इसकी शुरुआत की गई। इस दौरान केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मौजूद रहे। सभी ने करार पत्र पर हस्ताक्षर करके परियोजना को औपचारिक रूप से हरी झंडी दिखा दी।

बुंदेलखंड के सुनहरे भविष्य की रेखा

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह बुंदेलखंड के सुनहरे भविष्य की रेखा है। इससे क्षेत्र में जल संकट खत्म हो जाएगा और विकास के अन्य कार्य भी पूरे होंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि केन-बेतवा लिंक परियोजना से नदी जोड़ो अभियान को ताकत मिलेगी। देश में नदी जल प्रबंधन की दिशा में एक क्रांति सावित होगा। इसका लाभ आने वाली कई पीढ़ियों तक को मिलता रहेगा। पीएम मोदी ने इस योजना को शीघ्रता से पूरा करने के लिए क्षेत्रवासियों से यथासंभव हर सहयोग करने के लिए प्रेरित भी किया।

नदियों को जोड़ने का ‘अटल स्वप्न’ होगा साकार: योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का सपना था। इस समझौते से उत्तर प्रदेश में बुन्देलखण्ड क्षेत्र के जनपद बाँदा, झाँसी, महोबा, ललितपुर एवं हमीरपुर में कुल 2.51 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई व्यवस्था उपलब्ध होगी। साथ ही उत्तर प्रदेश के इन जनपदों में पेयजल हेतु 21 लाख की जनसंख्या को 67 मिलियन क्यूबिक मीटर जल उपलब्ध कराया जा सकेगा।

किसानों को भरमा रहा विपक्ष

इस परियोजना के अन्तर्गत मध्य प्रदेश के पन्ना जनपद में केन नदी पर दौधन बांध बनाया जायेगा, जिससे 221 किलोमीटर लम्बी लिंक चैनल निकाली जाएगी, यह झांसी के निकट बरुआ में बेतवा नदी को जल उपलब्ध कराएगी। केन-बेतवा लिंक नहर पर उत्तर प्रदेश की जरूरत के अनुसार आउटलेट प्रदान करते हुए महोबा, हमीरपुर एवं झांसी जिलों में वर्षाकाल में जल उपलब्ध हो सकेगा।

इन जनपदों में पूर्व में बने बांध, जो विगत कई वर्षों से भरे नहीं जा सके हैं, वहां भी जल उपलब्ध कराया जाएगा। सीएम योगी ने इस परियोजना को बुन्देलखण्ड के सर्वांगीण विकास में स्वर्णिम अध्याय बताया।

Related posts

Rahul Gandhi on Twitter: राहुल गांधी ने ट्विटर पर लगाया आरोप, मोदी सरकार के दबाव में कर रहा काम

Rahul

धर्मांतरण मामले में UP ATS का एक और बड़ा खुलासा, इन कोड वर्ड का होता था इस्तेमाल

Shailendra Singh

खो खो खिलाड़ी बबली के परिजनों से मिलने पहुंचे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार

Rani Naqvi