देश छत्तीसगढ़ पंजाब बिहार भारत खबर विशेष राजस्थान

स्ट्रांगरूम में VVPAT है सुरक्षित, विपक्ष की पर्चियों की जांच की मांग को चुनाव आयोग ने नकारा

loksabha election2019 स्ट्रांगरूम में VVPAT है सुरक्षित, विपक्ष की पर्चियों की जांच की मांग को चुनाव आयोग ने नकारा

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले ईवीएम और वीवीपीएटी के मुद्दे पर कांग्रेस, एसपी, बीएसपी, तृणमूल कांग्रेस समेत 22 विपक्षी दलों के नेताओं ने मंगलवार को चुनाव आयोग के अधिकारियों से मुलाकात की। विपक्ष ने EC से मांग की है कि 23 मई को मतगणना शुरू होने से पहले बिना किसी क्रम के चुने गए पोलिंग स्टेशनों पर वीवीपीएटी पर्चियों की जांच की जाए। उधर, चुनाव आयोग ने बयान जारी कर स्ट्रांगरूम्स में रखे गए EVMs की सुरक्षा को लेकर जाहिर की जा रही तमाम आशंकाओं को खारिज कर दिया है।
विपक्षी दलों ने कहा है कि अगर किसी एक बूथ पर भी वीवीपीएटी पर्चियों का मिलान सही नहीं पाया जाता तो संबंधित विधानसभा क्षेत्र में सभी मतदान केंद्रों की वीवीपीएटी पर्चियों की गिनती की जाए और इसका EVM रिजल्ट्स से मिलान किया जाए। EC अधिकारियों से मुलाकात के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने पत्रकारों से कहा, ‘हमने मांग की है कि वीवीपीएटी पर्चियों का मिलान पहले किया जाए और अगर कोई गलती मिले तो उस क्षेत्र में सभी की गिनती होनी चाहिए।’
EC ने कहा, स्ट्रांगरूम्स में EVM सुरक्षित
उधर, चुनाव आयोग ने बयान जारी कर मंगलवार को कहा कि स्ट्रांगरूम्स में EVMs पूरी तरह से सुरक्षित हैं। इसके साथ ही आयोग ने चुनावों में इस्तेमाल वोटिंग मशीनों की अदला-बदली की आशंकाओं और आरोपों को भी सिरे से खारिज कर दिया है। शिकायतों पर आयोग ने कहा कि वह साफ कर देना चाहता है कि ऐसी रिपोर्टें पूरी तरह से झूठी और गलत हैं।
24×7 सुरक्षा, लगातार हो रही रिकॉर्डिंग
आयोग ने बयान में कहा कि मतदान संपन्न होने के बाद सभी EVMs और VVPATs मशीनों को कड़ी सुरक्षा में स्ट्रांगरूम्स में ले जाया गया, जिसे डबल लॉक्स से सील किया गया और इस दौरान उम्मीदवारों के साथ चुनाव आयोग के पर्यवेक्षक भी मौजूद थे। EC के मुताबिक पूरी प्रक्रिया की विडियोग्राफी हुई है और काउंटिंग पूरी होने तक लगातार CCTV कवरेज जारी रहेगा। हर स्ट्रांगरूम की सुरक्षा केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल कर रहे हैं। इसके साथ ही स्ट्रांगरूम पर उम्मीदवार या उनके प्रतिनिधि 24×7 निगरानी रख रहे हैं।

Related posts

महाराष्ट्र: बीजेपी पार्षद पर लगा आरोप, शादी का झांसा देकर करता था रेप

Pradeep sharma

विशेष्ज्ञों ने दी चेतावनी! भारत में तीन महीने बाद आने वाली है कोरोना की तीसरी लहर

Rahul

HPBOSE ने hpbose.org वेबसाइट पर कक्षा 12 के परिणाम 2020 घोषित किए

Rani Naqvi