टैक्स दस्तावेज लीक होने से नाराज हुए डोनाल्ड ट्रंप

वाशिंगटन। अमेरिका में राष्ट्रपति की कुर्सी की कमान संभालते ही विवादों में घिरे डोनाल्ड ट्रंप एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। दरअसल गत दिनों डोनाल्ड ट्रंप के टैक्स के पेपर लीक हो गए थे। लीक हुए पेपर से पता चला है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने साल 2005 में 15 करोड़ डॉलर से ज्यादा आय पर केवल पांच करोड़ डॉलर कर अदा किया था। इस बात का खुलासा होने के बाद ट्रंप गुस्सा हो गए हैं।

अमेंरिकी टीवी नेटवर्क एमएसएनवीसी ने दो पन्नों का दस्तावेज जारी किया है जिसको लेकर ह्वाइट हाउस ने गंभीर नाराजगी जाहिर की है। ह्वाइट हाउस का कहना है कि कर रिटर्न प्रकाशित करना गैर कानूनी है।

उल्लेखनीय है कि चुनाव अभियान के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कर रिटर्न की जानकारी देने से मना कर दिया था। हालांकि पहले के उम्मीदवार ऐसा करते रहे हैं। वैसे दो पन्नों का दस्तावेज में कर रिटर्न की मुकम्मल जानकारी नहीं है और उसमें ट्रंप की कुल आय का ब्योरा भी नहीं है। लेकिन नई जानकारी अतिरिक्त ब्योरा जारी करने के लिए ट्रंप पर दबाव डालेगी।

दस्तावेज के मुताबिक ट्रंप ने 53 लाख डॉलर कर के रूप में चुकाए और वैकल्पिक न्यूनतम कर (एएमटी) के रूप में उन्होंने 31 लाख डॉलर अदा किया। एएमटी की शुरुआत पचास साल पहले अमीरों को कर अदायगी से बचने के उपाय अपनाने से रोकने के लिए की गई थी।