September 29, 2022 12:47 am
धर्म

आज का पंचांग: आज करें भानुपुत्र शनि देव की पूजा, जानें शुभ समय और इसका महत्व

Aaj Ka Panchang

आज 28 अगस्त यानि शनिवार है। इस दिन शनि देव की पूजा करनी चाहिए। हिंदू धर्म के अनुसार शनि देव को न्याय का देवता कहा जाता है। उनकी पूजा करने से सभी दुख दूर हो जाते हैं।

 

 

जाने क्या है जन्माष्टमी पर पूरा कार्यक्रम, कब होंगे दर्शन और कब की जाएगी आरती

शनि देव की आरती

 

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी।
सूर्य पुत्र प्रभु छाया महतारी॥

जय जय श्री शनि देव

श्याम अंग वक्र-दृ‍ष्टि चतुर्भुजा धारी।
नी लाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥

जय जय श्री शनि देव

क्रीट मुकुट शीश राजित दिपत है लिलारी।
मुक्तन की माला गले शोभित बलिहारी॥

जय जय श्री शनि देव

मोदक मिष्ठान पान चढ़त हैं सुपारी।
लोहा तिल तेल उड़द महिषी अति प्यारी॥

जय जय श्री शनि देव

देव दनुज ऋषि मुनि सुमिरत नर नारी।
विश्वनाथ धरत ध्यान शरण हैं तुम्हारी॥

जय जय श्री शनि देव भक्तन हितकारी।।

 

 आज का पंचांग

आज की तिथि – षष्ठी – 20:59:22 तक
आज का नक्षत्र – भरणी – 27:35:28 तक
आज का करण – गर – 07:52:00 तक, वणिज – 20:59:22 तक
आज का पक्ष – कृष्ण
आज का योग – घ्रुव – पूर्ण रात्रि तक
आज का वार – शनिवार

आज सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 05:56:46
सूर्यास्त – 18:47:42
चन्द्रोदय – 22:22:59
चन्द्रास्त – 11:07:59
चन्द्र राशि – मेष

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1943 प्लव
विक्रम सम्वत – 2078
काली सम्वत – 5123
दिन काल – 12:50:56
मास अमांत – श्रावण
मास पूर्णिमांत – भाद्रपद
शुभ समय – 11:56:32 से 12:47:55 तक

 

अशुभ मुहूर्त

दुष्टमुहूर्त – 05:56:46 से 06:48:09 तक, 06:48:09 से 07:39:33 तक
कुलिक – 06:48:09 से 07:39:33 तक
कंटक – 11:56:32 से 12:47:55 तक
राहु काल – 09:09:30 से 10:45:52 तक
कालवेला / अर्द्धयाम – 13:39:19 से 14:30:43 तक
यमघण्ट – 15:22:07 से 16:13:30 तक
यमगण्ड – 13:58:36 से 15:34:58 तक
गुलिक काल – 05:56:46 से 07:33:08 तक

Related posts

क्या वजह थी कि माता पार्वती को भगवान शिव को निगलना पड़ा?

Nitin Gupta

बांके बिहारी मंदिर में लॉकडाउन के नियमों किया जा रहा पालन, जानिए कोरोना के बीच कैसे हो रही पूजा..

Rozy Ali

उगते सूर्य को अर्घ्य देकर किया गया छठ महापर्व का समापन

mahesh yadav