यूपी बोर्ड की परीक्षाओं का उपमुख्यमंत्री ने किया निरीक्षण

यूपी बोर्ड की परीक्षाओं का उपमुख्यमंत्री ने किया निरीक्षण

लखनऊ। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं मंगलवार से शुरू हो गईं। पहली पाली में कड़ी निगरानी के बीच परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। इससे पहले सघन चेकिंग के बाद छात्र-छात्राओं को केंद्र में प्रवेश दिया गया। उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने मंगलवार को जौनपुर में कई परीक्षा केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान वह हैलीकॉप्टर से कई जगह पहुंचे और चल रही परीक्षा का जायजा लिया।

deputy chief minister
deputy chief minister

इस दौरान उन्होंने कहा कि अगर कही किसी तरह की कोई गड़बड़ी या नकल कराने या होने समेत कोई सूचना मिलती है तो दोषी लोगों को सीधे जेल जाना होगा। शर्मा ने कहा कि सरकार नकल विहीन परीक्षा सम्पन्न कराने के लिए कृत संकल्प है। परीक्षा केन्द्रों पर सीसीटीवी की निगरानी है। सभी कैमरे काम भी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी केंद्र पर शिकायत मिली तो सख्त कार्रवाई होगी। दिनेश शर्मा ने कहा कि सरकार की इस सख्ती का असर भी दिखाई पड़ रहा है। जौनपुर में फर्जी कॉपी छापने वाले गिरफ्तार हुए हैं।

वहीं दूसरी लखनऊ डीआईओएस ने केंद्र व्यवस्थापक को तीन सदस्यीय कमेटी गठन करने का आदेश दिया है। कमरा किस समय खुला, किसने और किस लिए खोला गया और कब बंद किया गया। यह सब एक रजिस्टर में दर्ज करना होगा। इस पर इन तीनों सदस्यों के हस्ताक्षर होंगे। डीआईओएस ने आदेश दिया है कि कक्षाओं में लगे सीसीटीवी कैमरे छात्रों की तरफ होने चाहिए। साथ ही रिकॉर्डिंग में किसी तरह का कट नहीं होना चाहिए।

वहीं कैमरे किसी भी समय बंद नहीं किए जाएंगे। कभी भी किसी भी परीक्षा केंद्र की रिकॉर्डिंग सचल दस्ते व अन्य अधिकारी जांच कर सकते हैं। डीआईओएस ने सभी परीक्षा केंद्र व्यवस्थापकों व स्कूल प्रबंधन को एक पत्र जारी कर विशेष निर्देश दिए गए हैं। इसमें कहा गया है कि जिस कमरे में कापी व प्रश्न पत्र रखे गए उनकी निगरानी के लिए 24 गार्ड होने चाहिए।