tufan 1 अगले 24 घंटे में मोदी के गढ़ पर आफत बनकर टूटेगा तूफान, देश के इन दो राज्यों में होगी भारी तबाही..

कोरोना के कहर के बीच अभी-अभी बंगाल -उड़ीसा में तूफान भारी तबाही मचा कर निकला है। इस बीच देश में एक बार फिर आफत बनकर टूटा है नया तूफान जो अगले 24 घंटों में देश के दो राज्यों में आने वाला है।बंगाल और ओडिशा में चक्रवाती तूफान अम्फान की तबाही के बाद गुजरात और महाराष्ट्र में निसर्ग चक्रवात का खतरा मंडराने लगा है। भारतीय मौसम विभाग ने सोमवार को कहा कि 3 जून को चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में हरिहरेश्वर और दमन के बीच उत्तर महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के तटों से टकरा सकता है।

tuafn 2 अगले 24 घंटे में मोदी के गढ़ पर आफत बनकर टूटेगा तूफान, देश के इन दो राज्यों में होगी भारी तबाही..
IMD के उप महानिदेशक आनंद कुमार ने कहा कि अरब सागर में बने निम्न दाब के क्षेत्र की वजह से अगले 24 घंटे में चक्रवात बन सकता है। निसर्ग चक्रवात 2 जून की सुबह तक उत्तर की ओर बढ़ेगा. फिर उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ने के बाद हरिहरेश्वर और दमन के बीच उत्तर महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के तटों से 3 जून की शाम या रात तक टकरा सकता है। बता दें कि हरिहरेश्वर शहर मुंबई और पुणे दोनों से 200 किलोमीटर की दूरी पर और दमन से 360 किलोमीटर की दूरी पर है।

राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र की प्रमुख सती देवी ने कहा है कि चार जून के लिए तटवर्ती महाराष्ट्र, गोवा और पूरे गुजरात को लेकर रेड अलर्ट जारी किया गया है। चक्रवाती तूफान के चलते इन क्षेत्रों में भारी बारिश होने की संभावना है। तीन जून के लिए तटवर्ती महाराष्ट्र और गोवा के लिए रेड अलर्ट और गुजरात के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, अरब सागर के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र सक्रिय हो गया है. इस दबाव के चलते उठा तूफान 2-3 जून को महाराष्ट्र और गुजरात के समुद्री तट से टकरा सकता है। गुजरात में तो निसर्ग तूफान का असर भी दिखना शुरू हो गया है। यहां के भावनगर में तेज बारिश हुई है. IMD ने उत्तरी और दक्षिणी गुजरात तटों पर सभी बंदरगाहों पर चक्रवात अलर्ट संकेत एक्टिव कर दिए हैं।

https://www.bharatkhabar.com/lights-at-white-house-america-turned-off-amid-violent-protests/
मौसम विभाग ने केरल, कर्नाटक के तटीय इलाकों, गोवा और महाराष्ट्र के तटीय इलाकों के लिए अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने कहा है कि निसर्ग तूफान के चलते तेज बारिश होगी और 120 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चलेंगी।यह तूफान महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय इलाकों की तरफ बढ़ रहा है. किसी भी प्रकार के खतरे को देखते हुए NDRF की टीमें तैनात कर दी गई हैं। गृह मंत्रालय इस तूफान से निबटने के लिए हर मोर्चे पर तैयार खड़ा है।

लॉकडाउन में महिलाओं के साथ बढ़ते जा रहे ऑन लाइन यौन शोषण रिसर्च ने किया चौंका देने वाला खुलासा..

Previous article

पाकिस्तान में धडिल्ले से बेची जा रही टिड्डी , जानिए पाकिस्तान टिड्डियों का कैसे कर रहा व्यापार?

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured