न्यू कैपिटल ऑफ अमरावती में बनेगी मीडिया और फिल्मसिटी सीएसएल के कार्यक्रम में बोले सीएम नायडू

न्यू कैपिटल ऑफ अमरावती में बनेगी मीडिया और फिल्मसिटी सीएसएल के कार्यक्रम में बोले सीएम नायडू

देश की राजधानी नई दिल्ली  में होटल दॉ क्लार्जिस में आध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडू ने आध्र प्रदेश में निर्मित होने वाली विश्व की पांचवीं सबसे विकसित न्यू कैपिटल अमरावती सिटी के प्रपोजल की चर्चा की। उन्होने कहा कि अांध्र प्रदेश में इस सिटी में मीडिया के लिए भी एक शहर का निर्माण किया जाना है। जिसको मीडिया सिटी के तौर पर विकसित किया जाएगा। इस दिशा में सरकार अब एक बड़ा प्रयास कर रही है। उन्होने कहा कि जो लोग मीडिया और मनोरंजन के क्षेत्र से जुड़े हैं। उनके लिए अमरावती सिटी में तैयार होने वाली मीडिया सिटी में अपार संभावनाए मौजूद होंगी।

अमरावती शहर की रूपरेखा पर की चर्चा

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडू ने कहा कि हम एक ऐसे शहर को विकसित करने जा रहे हैं  जिसे हम नई राजधानी न्यू कैपिटल अमरावती कहेंगे। इसमें तकरीबन 9 शहरों को विकसित करने का प्लान है। ये शहर विश्व के सबसे विकसित 5 शहरों में से एक होगें। इस शहर में इलैक्ट्रानिक सिटी, जुडीशियल सिटी, मीडिया सिटी, नॉलेज सिटी, फॉइनेंस सिटी, हेल्थ सिटी, टूरिज्म सिटी, गवर्मेंट सिटी और स्पोर्टस सिटी के तौर पर अब इस शहर को बनाया जाएगा। इसके साथ ही इसमें वर्ल्ड क्लास की सभी सुविधाएं जैसे परिवहन, होटल और मनोरंजन की सभी सुविधाएं मौजूद होंगी।

कैसा होगा अमरावती का स्वरूप

नई विकसित हो रही अमरावती के स्वरूप को तय करने के लिए अब सेन्ट्रल फॉर स्टेटिजी एंड लीडर शिप ऑर्गनाइजेशन को अब आंध्र प्रदेश की सरकार ने इसकी प्लानिंग के लिए अपने साथ लिया है। सीएसएल के कार्यकारी अधिकारी विकास शर्मा ने अहम भूमिका निभाते हुए शनिवार को इस शहर में विकसित हो रही मीडिया सिटी को लेकर एक व्यापक चर्चा का आयोजन राजधानी दिल्ली में स्थित होटल दॉ क्लॉर्जिस में किया।

जिसमें उन्होने आध्र प्रदेश सरकार की मीडिया और मनोरंजन सिटी के विकास और बनाने के उद्देश्य को आए हुए देश के नामचीन पत्रकारों और उद्योगपतियों के बीच साझा किया। उन्होने कहा कि देश के चौथे स्तम्भ का एक मजबूत गढ़ आंध्रप्रदेश रहा है। अगर देश में हम फिल्मांकन के क्षेत्र की बात करते हैं तो तकरीबन 70 फीसदी आंध्र प्रदेश की देने है। मीडिया के हब बने दिल्ली एनसीआर के बाद मीडिया का सबसे बड़ा और पहला क्षेत्र आंध्र प्रदेश है। इस प्रदेश में अभी भी तकरीबन 63 चैनल प्रसारित हो रहे हैं। इसके अलावा यहां पर 16 न्यूज चैनल चल रहे हैं। आध्रंप्रदेश सरकार अब इसी क्षेत्र को एक बड़े पैमाने पर खड़ा करने के उद्देश्य से मीडिया सिटी बनाने को लेकर तैय़ारी कर रही है।

हर क्षेत्र में विकास करना सरकार का उद्देश्य

इस मौके पर आध्र प्रदेश सरकार के विशेष आयुक्त आंध्र प्रदेश कैपिटल डेवलपमेंट ऑथारिटी के साथ विशेष आयुक्त आंध्र भवन वी टी राम राव ने अभी अपने विचार रखे। उन्होने कहा कि आईटी सेक्टर से लेकर सिविल सेक्टर तक के लिए आध्रंप्रदेश में बड़े अवसर हैं। इसके साथ ही सरकार ने इन शहरों में निवेश के साथ निर्माण के लिए बड़े ही कार्यक्रमों को लागू किया है। सरकार की मंशा को सामने रखते हुए उन्होने कहा कि सरकार चाहती है कि विकास के लिए जनता नेता का मुंह ना देखे विकास देना है तो व्यक्ति के पास सरकार को जाना चाहिए।

अजस्र पीयूष