September 29, 2022 12:54 am
featured उत्तराखंड

मसूरी गोलीकांड पर मुख्यमंत्री ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि, 6 राज्य आंदोलनकारियों की मौत

02 09 2021 cmdhami 21984219 मसूरी गोलीकांड पर मुख्यमंत्री ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि, 6 राज्य आंदोलनकारियों की मौत

सन 1994 को मसूरी में शहीद हुए 6 राज्य आंदोलनकारियों को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने श्रद्धा सुमन अर्पित किए इस अवसर पर केंद्रीय राज्य मंत्री अजय भट्ट, काबीना मंत्री गणेश जोशी भी मौजूद रहे। शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वह स्वयं एक आंदोलनकारी रहे हैं और उनके दर्द को भली-भांति जानते हैं उन्होंने कहा कि  वह सक्रिय राज्य आंदोलनकारियों के चिन्हीकरण को लेकर दिशा निर्देश जारी कर चुके हैं और 31 सितंबर तक राज्य आंदोलनकारियों का चिनहीकरण कर दिया जाएगा मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य आंदोलन के दौरान हर व्यक्ति ने अपना योगदान दिया है और आज उन्हीं की बदौलत उत्तराखंड राज्य का गठन हो पाया है।

mussoorie golikand 1472794589 मसूरी गोलीकांड पर मुख्यमंत्री ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि, 6 राज्य आंदोलनकारियों की मौत

बता दें कि इस मौके पर केंद्रीय राज्य मंत्री अजय भट्ट ने कहा कि राज्य आंदोलन की बदौलत ही आज हम विधायक और मंत्री बने हैं उन्होंने कहा कि राज्य आंदोलनकारियों के शहादत को भुला नहीं जा सकता है केंद्रीय राज्य मंत्री अजय भट्ट ने कहा कि पर्यटन प्रदेश होने के नाते उत्तराखंड के लिए केंद्र सरकार द्वारा विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही है जिसका लाभ उत्तराखंड के लोगों को मिल रहा है।

वहीं इस दौरान शिफन कोर्ट से बेघर हुए लोगों ने मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन भी प्रेषित किया जिसमें मांग की गई कि शिफन कोर्ट के निवासियों को शीघ्र आवास मुहैया कराया जाए वही सीएम पुष्कर धामी ने कहा कि वे शीघ्र शिफन कोर्ट के निवासियों की मांगों को पूरा करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है और जल्द ही बेघर हुए लोगों के लिए योजना बनाई जाएगी।

tyu मसूरी गोलीकांड पर मुख्यमंत्री ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि, 6 राज्य आंदोलनकारियों की मौत

इस दौरान शिफन कोर्ट से बेघर हुए दर्जनों लोग शहीद स्थल झूला घर पर मौजूद रहे मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया था विगत दिवस शिफन कोर्ट से बेघर हुए लोगों द्वारा एक बैठक कर मसूरी आने वाले भाजपा नेताओं को काले झंडे दिखाने का निर्णय लिया गया था इसे देखते हुए पुलिस ने भी मोर्चा संभाल रखा था इस दौरान पुलिस प्रशासन के हाथ पांव की फूले नजर आ रहे थे।

प्रशासन द्वारा बार-बार आंदोलनकारियों से वार्ता का अनुरोध किया जा रहा था लेकिन प्रदर्शनकारी वार्ता करने को तैयार नहीं हुए और उन्होंने कहा कि वह मुख्यमंत्री को ज्ञापन दिए बिना धरना स्थल से नहीं हटेंगे पुलिस ने किसी तरह शिफन कोर्ट के लोगों को शांत करवाया था। सभा को संबोधित करते हुए काबीना मंत्री गणेश जोशी फिर एक बार अपने विवादित बयान से चर्चा में आ गए उन्होंने मंच पर मौजूद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को अपने संबोधन में पूर्व मुख्यमंत्री बता डाला जिस पर वहां मौजूद लोगों ने मंत्री के बयान पर चुटकी भी ली

Related posts

डोकलाम पर चीन युद्ध के लिए आगे बढ़ा तो करेगा अपनी आत्महत्या

piyush shukla

19 नवंबर 2021 का पंचांग: कार्तिक पूर्णिमा पर आज लग रहा है चंद्र ग्रहण, जानें आज का शुभमुहूर्त और राहुकाल

Neetu Rajbhar

सुशील मोदी ने ट्वीट कर साधा राजद पर निशाना, अहंकार के टकराव में डूबा राजद अपने विसर्जन की ओर बढ़ रहा

Ankit Tripathi