आरटीआई एक्टिविस्ट को सेंसर बोर्ड ने पदमावती की सूचना देने से मना किया

आरटीआई एक्टिविस्ट को सेंसर बोर्ड ने पदमावती की सूचना देने से मना किया

लखनऊ। चर्चाओं में रहने वाली फिल्म पदमावती के बारे में लखनऊ की आरटीआई एक्टिविस्ट नूतन ठाकूर ने मुम्बई स्थित केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सेंसर बोर्ड) से सूचना मांगी थी। उनके द्वारा मांगा गयी सूचना को निदेशक ने गोपनीय जानकारी होने की बात कहकर उन्हें सूचना देने से मना कर दिया है। उन्होंने बताया कि सेंसर बोर्ड को संजय लीला भंसाली की पदमावती के लिए सिनेमेटोग्राफी एक्ट 1952 के अंतर्गत सेंसर प्रमाणपत्र के सम्बन्ध में कृत कार्यवाही से जुड़े अभिलेख मांगे थे।

padmavati
padmavati

बता दें कि 02 जनवरी को निदेशक द्वारा भेजे गये पत्र में अपने उत्तर द्वारा बोर्ड के जन सूचना अधिकारी संजय जायसवाल ने नूतन को बताया कि यह सूचना गोपनीय है और नहीं दी जा सकती है। इस पर नूतन ने कहा कि सेंसर बोर्ड द्वारा दिया यह उत्तर पूरी तरह गलत है। क्योंकि आरटीआई की सूचना मात्र आरटीआई एक्ट के प्रावधानों में ही मना की जा सकती है, न कि किसी अभिलेख को गोपनीय बता कर, अतः वे इसके खिलाफ कोर्ट में अपील करेंगी।