देश featured

CCI कल सार्वजनिक खरीद और प्रतिस्पर्धा कानून पर राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करेगा

CCI कल सार्वजनिक खरीद और प्रतिस्पर्धा कानून पर राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करेगा

भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) 5 नवंबर, 2018 को दिल्ली में ‘सार्वजनिक खरीद और प्रतिस्पर्धा कानून पर राष्ट्रीय सम्मेलन’ का आयोजन कर रहा है। इस आयोजन का उद्देश्य बढ़ती हुई प्रतिस्पर्धा के अनुरूप क्षमता संवर्द्धन और सार्वजनिक खरीद पारिस्थितिकी तंत्र में महत्वपूर्ण हितधारकों तक पहुंच बनाना है। केन्द्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामले मंत्री अरुण जेटली इस राष्ट्रीय सम्मेलन में मुख्य वक्ता और मुख्य अतिथि होंगे।

 

CCI कल सार्वजनिक खरीद और प्रतिस्पर्धा कानून पर राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करेगा
CCI कल सार्वजनिक खरीद और प्रतिस्पर्धा कानून पर राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करेगा

इसे भी पढे़ःजानिए क्यों, संसद में अरुण जेटली ने पीएम मोदी से हाथ मिलाने से किया मना?

आपको बता दें कि इस राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन कॉर्पोरेट मामले मंत्रालय के अधीन एक थिंक टैंक, कारपोरेट मामलों के भारतीय संस्थान (आईआईसीए) के सहयोग से किया जा रहा है। राष्ट्रीय सम्मेलन से पूर्व, सीसीआई अध्यक्ष, सुधीर मित्तल ने कहा कि यह राष्ट्रीय सम्मेलन, आयोग की एक अनूठी पहल है। जो विभिन्न हितधारकों को प्रतिस्पर्धा कानून और जनता से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर नीति निर्माताओं और उद्योग के बीच सक्रिय चर्चा में शामिल होने के लिए एक मंच प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देना और सार्वजनिक खरीद में विरोधी प्रतिस्पर्धी आचरण की जांच करना सीसीआई की प्राथमिकता है।

राष्ट्रीय सम्मेलन में केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के विभिन्न नीति निर्माता,सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम, उद्योग, कानूनी और वित्त पेशेवर, कॉर्पोरेट वकील, शिक्षाविद और अन्य प्रासंगिक हितधारकों के प्रतिभागी शामिल होंगे। सम्मेलन के दौरान सार्वजनिक खरीद, बोली, कार्टेल और मर्जर कंट्रोल जैसे विषयों पर मुख्य रूप से ध्यान दिया जाएगा। विभिन्न स्थानों पर कई सम्मेलनों और रोड शो की श्रृंखला के अंर्तगत यह दूसरा आयोजन है। इसका पहला रोड शो 15 अक्टूबर, 2018 को मुंबई में कार्टेल और मर्जर कंट्रोल पर ध्यान केंद्रित करने के उद्देश्य के साथ आयोजित किया गया था।

सम्मेलन के दौरान उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों में उच्चतम न्यायालय के माननीय न्यायमूर्ति ए.के. सिकरी, कॉर्पोरेट मामले मंत्रालय के सचिव, इंजेटी श्रीनिवास, भारत में विश्व बैंक निदेशक, जुनाद कमल अहमद और आईआईसीए के महानिदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ समीर शर्मा अपने विचार साझा करेंगे।

राष्ट्रीय सम्मेलन के दौरान दो सत्रों का आयोजन किया जाएगा। पहले सत्र की अध्यक्षता पंजाब सरकार के मुख्य सचिव करन अवतार सिंह करेंगे। दूसरे सत्र की अध्यक्षता सीसीआई के सदस्य ऑगस्टिन पीटर करेंगे। सीसीआई सचिव स्मिता झिंगरन के द्वारा सत्र का समापन किया जाएगा।

महेश कुमार यादव

Related posts

अल्मोड़ा: तेज रफ्तार अनियंत्रित कार खाई में गिरी, 2 लोगों की मौत-3 घायल

pratiyush chaubey

अहमदाबाद का नाम बदलने की तैयारी में है गुजरात सरकार

mahesh yadav

तस्करों पर हुई कार्रवाई पर कप्तान हैं खामोश

kumari ashu