featured देश

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को बताया ‘मसखरा शहजादा’

arun jaitly वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को बताया ‘मसखरा शहजादा’

नई दिल्ली:राफेल सौदे और भगोड़े बैंक डिफॉल्टर के मुद्दे को लेकर बीजेपी और कांग्रेस में घमासान लगातार जारी है। इस बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी झूठ ‘गढ़’ रहे हैं। उन्होंने कहा कि संसद में नीरव मोदी से मिलने और देश छोड़कर भागने में उसकी मदद करने की बात तो छोड़िए, उन्होंने भगोड़ा हीरा कारोबारी को कभी व्यक्तिगत तौर पर देखा तक नहीं है।

 

arun jaitly वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को बताया ‘मसखरा शहजादा’

 

ये भी पढें:

 

दिल्लीःसंचार राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने BBNL के कॉरपोरेट कार्यालय का उद्धाटन किया
दिल्ली के 5 सितारा होटल हयात के बाहर कपल को धमकाता और तमंचा लहराता दिखा पूर्व सांसद का बेटा

कांग्रेस अध्यक्ष को ‘मसखरा शहजादा’ करार देते हुए जेटली ने एक फेसबुक ब्लॉग में कहा कि क्या गांधी को कोई व्यक्तित्व संबंधी दिक्कत है जहां ‘‘वह दर्जनों बार झूठ बोलते हैं और फिर स्व-विभ्रम में उसे सच मानते हैं या यह किसी ‘मसखरे शहजादे’ का मामला है जिसने मसखरेपन में खुद को ही मात दे दी?’’

 

वहीं कांग्रेस ने जेटली को बातूनी ब्लॉगर करार दिया है। जवाबी हमले में कांग्रेस ने जेटली के इस ब्लॉग को हताशा करार दिया, और कहा कि भारत को एक वित्तमंत्री की जरूरत है, न कि एक बातूनी ब्लॉगर की। राहुल गांधी के इस आरोप पर कि उन्होंने अरबों के पीएनबी फर्जीवाड़े के आरोपी नीरव मोदी से संसद में मुलाकात की थी, जेटली ने कहा, ‘‘मुझे याद नहीं आ रहा कि मैंने अपने जीवन में कभी नीरव मोदी को देखा है। संसद में उसके मुझसे मिलने का सवाल ही नहीं उठता। यदि वह संसद आया होगा, जैसा कि राहुल गांधी ने दावा किया है, तो तब यह रिसेप्शन के रिकॉर्ड से पता चल जाएगा।’’

 

जेटली ने कहा कि मध्य प्रदेश में दो अलग-अलग कार्यक्रमों में बोलते हुए गांधी ने उनके दो संदर्भ दिए। वित्त मंत्री ने कहा कि पहले संदर्भ में गांधी ने दावा किया कि ‘‘मैंने स्वीकार किया है कि विजय माल्या मुझसे संसद में मिला, उन्होंने आगे दावा किया कि मैंने स्वीकार किया है कि माल्या ने मुझसे कहा कि वह देश छोड़कर लंदन भाग रहा है और मैंने भागने में उसकी मदद की।’’

 

ये भी पढें:

 

उत्तराखंडःनिकाय चुनाव की रणभेरी की आहट आते ही कांग्रेस ने सरकार पर बोला हमला
उत्तराखंडःभाजपा के बागी नेता बनेंगे निकाय चुनाव में विभीषण

 

By: Ritu Raj

Related posts

अल्मोड़ा से स्वामी विवेकानंद का गहरा नाता, रामकृष्ण कुटीर में देश-विदेश से ध्यान लगाने आते हैं लोग

Neetu Rajbhar

प्रधानमंत्री ने द्वीपसमूहों के समग्र विकास की दिशा में हुए कार्यों का जयजा लिया

mahesh yadav

Guru Purnima: हमारी संस्कृति को याद दिलाता है ये पर्व

Shailendra Singh