September 25, 2022 8:47 am
featured यूपी

बागपत में यमुना नदी में नाव पलटी, 10 लोग लापता, एक महिला की लाश निकाली, राहत-बचाव कार्य जारी

यूपी बागपत में यमुना नदी में नाव पलटी, 10 लोग लापता, एक महिला की लाश निकाली, राहत-बचाव कार्य जारी

बागपत। हरियाणा से मजदूरों को लेकर लौट रही नाव यमुना नदी में पलट गई। नाव में 13 लोग सवार थे। हादसे में एक युवती की मौत हो गई, जबकि नौ लोग बचा लिए गए। नाविक कूदकर भाग गया। दो महिलाओं की तलाश में एनडीआरएफ की टीम जुटी हुई थी। घटना का तत्काल संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राहत-बचाव कार्य शुरू करने और डीएम व एसपी को मौके पर पहुंचने के निर्देश दिए। इस दुर्घटना से ढाई साल पूर्व काठा गांव में हुए भीषण नाव हादसे के जख्म ताजा हो गए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बागपत में नाव दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए एनडीआरएफ और एससीआरएफ को बचाव और राहत कार्य करने के निर्देश दिये हैं। सीएम योगी ने डीएम और एसपी को तत्काल मौके पर पहुंचने के लिए भी कहा और घायलों को समुचित इलाज उपलब्ध कराने के निर्देश दिया है।

बागपत नगर से प्रतिदिन कई लोग नाव से यमुना नदी पार करके हरियाणा में खेतों में मजदूरी करने जाते हैं। गुरुवार शाम करीब साढ़े पांच बजे हरियाणा के जिला सोनीपत के थाना राई क्षेत्र के गांव जाजल में मजदूरी करके मजदूर नाव से लौट रहे थे। जब नाव यमुना के बीच में पहुंची, तो तेज बहाव के कारण पलट गई। हादसे में माता कालोनी निवासी नसरीन की मौत हो गई। उसका शव निकाल लिया गया।

नसरीन की मां साइना, मोहल्ला देशराज निवासी कृष्णा, सरिता, माता कालोनी निवासी कृष्णा, मोहल्ला मलहान निवासी नूरहसन, समीर, इरफाना, वरीसा और शहनाज को बचा लिया गया। सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं, मोनी व राजेश की तलाश जारी थी। एसपी ने कहा कि नाविक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। बताया जा रहा है कि नाव में पांच की क्षमता थी, जबकि सवार कहीं उससे अधिक थे। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाव दुर्घटना में हुई जनहानि पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। सीएम जी डीएम एवं पुलिस अधीक्षक को तत्काल मौके पर पहुंचकर बचाव एवं राहत कार्य संचालित करने व एनडीआरएफ (राष्ट्रीय आपदा मोचन बल) तथा एसडीआरएफ (राज्य आपदा मोचन कोष) की सहायता लेने के निर्देश दिए हैं। दुर्घटना के प्रभावितों को हर संभव मदद व घायलों को समुचित चिकित्सा व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा है।

डीएम शकुंतला गौतम ने बताया कि बागपत के लोगों ने पलेज की खेती के लिए हरियाणा में जमीन किराए पर ले रखी है। नाव में सवार लोग खेतों में काम करके लौट रहे थे। यमुना नदी में नाव पलटने से हादसा हुआ है। मृतक युवती के परिवार की दैवीय आपदा के तहत आर्थिक मदद की जाएगी। नौ लोगों का जिला अस्पताल में उपचार किया जा रहा है। दो महिलाएं अभी नदी में डूबी हुई हैं। उनकी तलाश एनडीआरएफ की टीम व स्थानीय गोताखोर कर रहे हैं।

Related posts

दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की रिपोर्ट आई कोरोना निगेटिव, बुखार और सांस लेने में थी दिक्कत

Rani Naqvi

मुजफ्फरनगर में सीएम अखिलेशः कहा चौथे बजट में भी नहीं आए अच्छे दिन

Rahul srivastava

जलीकट्टू के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका पर 30 जनवरी सुनवाई संभव

Rahul srivastava