featured देश

निगम चुनावों में मिली हार को बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं सिसोदिया!

manish sisodia निगम चुनावों में मिली हार को बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं सिसोदिया!

नई दिल्ली। निगम चुनावों में मिली शर्मनाक हार का जिम्मा एक बार फिर से आम आदमी पार्टी ने ईवीएम मशीन पर फोड़ा है। आरोप पुराना है लेकिन इस बार उसे लगाने का तरीका दूसरा है। दरअसल इस बार ठीकरा डायरेक्ट नहीं बल्कि घुमा कर फोड़ा गया है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि 2009 का चुनाव हारने के बाद 5 साल ईवीएम पर रिसर्च कर महारत हासिल कर ली है।

manish sisodia निगम चुनावों में मिली हार को बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं सिसोदिया!

इसी मसले पर मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ‘भाजपा ने 2009 का चुनाव हारने के बाद 5 साल ईवीएम पर रिसर्च कर महारत हासिल की और आज उसी रिसर्च और महारत के दम पर चुनाव जीत रही है।

भाजपा ने ईवीएम पर सिर्फ रिसर्च नहीं की बल्कि इनके नेता जीबीएल नरसिंहाराव व आडवाणी जी ने किताब भी लिखी, इनके नेता सुप्रीम कोर्ट भी गए थे।

ईवीएम टेम्परिंग देश के लोकतंत्र की ऐसी कड़वी सच्चाई है जिसका शुरू में मज़ाक उड़ सकता है। लेकिन मज़ाक के डर से हम सच बोलना नहीं छोड़ सकते।‘

वहीं दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने कहा, ‘परिणाम आये, जैसी जीत भाजपा को मिली वो ईवीएम की लहर है। अगर लोकतंत्र ईवीएम से तय होगा तो आजादी पर खतरा। देश को सोचना पड़ेगा।‘

गोपाल राय ने कहा, 10 साल से एमसीडी में भाजपा की सत्ता थी, दिल्ली में जो परिणाम आये हैं, यह चमत्कारिक जीत है। यह मोदी लहर नहीं, ईवीएम लहर है। यूपी और उत्तराखण्ड में भी यही हुआ। लोकतंत्र पर बड़ा खतरा खड़ा हो गया है। ईवीएम लहर चलाई जा रही है। मतदाता का अधिकार सुनिश्चित करना है। भाजपा किसी भी तरह से लोकतंत्र को ख़त्म करना चाहती है। नतीजों के बाद मिल कर इस पर चर्चा करेंगे।

दूसरी ओर नतीजों के बाद स्वराज इंडिया के प्रमुख और चुनाव विशेषज्ञ योगेंद्र यादव ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, हम लोकतंत्र की त्रासदी देख रहे हैं ये बुरी खबर है हम कैसे जीवित रहने की उम्मीद कर सकते हैं। दूसरी ओर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने आम आदमी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा है कि जो हारते हैं वो वो कहते हैं ईवीएम खराब हैं।

Related posts

कोरोना के प्रकोप को देखते हुए बनाई गई निगरानी समिति, प्रशासन-स्वास्थ्य विभाग को देगी रिपोर्ट

pratiyush chaubey

कांग्रेस ने जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशियों की जारी की सूची, जानिए किसे मिला टिकट

Aditya Mishra

मोदी सरकार की दमनात्मक कार्रवाई और गिरफ्तारी से कांग्रेस नहीं डरेगी: मनीष तिवारी

Trinath Mishra