November 29, 2021 9:22 pm
Breaking News featured दुनिया देश

भारत मय हुआ दावोस, हर तरफ दिखाई दे रहे भारतीय कंपनियों के विज्ञापन

davas भारत मय हुआ दावोस, हर तरफ दिखाई दे रहे भारतीय कंपनियों के विज्ञापन

दावोस। स्विट्जरलैंड की राजधानी दावोस में चल रहे विश्व आर्थिक मंच की बैठक में पीएम मोदी हिस्सा लेने पहुंचे। दावोस में लगभग 20 साल बाद कोई भारतीय प्रधानमंत्री इस बैठक में हिस्सा लेने पहुंचा है। इस दौरान दावोस की सड़के भारत मय हो गई है। हर तरफ सिर्फ भारत की कंपनियों के विज्ञापन और पीएम मोदी के पोस्टर दिखाई दे रहे हैं। बता दें कि दावोस मौजूदा समय में दुनिया के सबसे एलीट लोगों के जमावड़े की जगह बन चुका है। वहीं यहां अगले सप्ताह दुनिया के बड़े-बड़े नेता, इन्वेस्टर्स और बिजनेस लीडर्स इकोनॉमिक फोरम की मीटिंग में शिरकत करेंगे। इसी दौरान पीएम मोदी भी एक बड़े प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक करेंगे।davas भारत मय हुआ दावोस, हर तरफ दिखाई दे रहे भारतीय कंपनियों के विज्ञापन

वहीं शहर की हर इमारत पर, बसों पर और संकरी गलियों में भारत की कंपनियों के विज्ञापन और इनके साथ पीएम मोदी के पोस्टर नजर आ रहे हैं। यहीं नहीं भारत सरकार ने तो यहां अपना लॉन्ज भी लगाया हुआ है, आंध्र प्रदेश और महाराष्ट्र सरकार ने भी अपने केंद्र यहां बनाए हैं। वहीं ग्लोबल कंपनियों से अलग कुछ भारतीय कंपनियों ने भी अपने सेंटर यहां लगाए हैं। पांच दिन चलने वाली वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की मीटिंग इस साल बहुत बड़ी है। उसी तरह बर्फबारी भी इस समय बहुत ज्यादा हो रही है।

हालांकि, शहर में हर तरफ काले कोट पहने अधिकारी दिख रहे हैं जो एनुअल मीटिंग के लिए आए हैं, इसके बावजूद स्कीइंग और मेडिकल टूरिस्टों का यहां जमावड़ा लगा हुआ है। 1971 से हर साल जनवरी में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की मीटिंग यहां हो रही है और इस साल यह उसकी 48वीं एनुअल मीटिंग है। इसके चलते शहर में सुरक्षा कर्मियों की संख्या बढ गई है क्योंकि पांच दिन के इस कार्यक्रम में दुनिया भर के करीब 3,000 नेता शामिल हुए हैं. इसके अलावा 2,000 से ज्यादा पत्रकार भी यहां जुटे हैं।

Related posts

जानिए क्यों यूपी से सटा नेपाल बार्डर होने वाला है सील, 7 जिलों से सटी सीमा होगी बंद

Aditya Mishra

वंशवाद की राजनीति से नहीं उबर पाई कांग्रेस, राहुल ‘रणछोर’ आदमी: शिवराज सिंह चौहान

bharatkhabar

बॉबी देओल ने अपने करियर से जुड़े खोले राज कहा, बहुत लोगों से मांगा था काम पर

mohini kushwaha