January 31, 2023 11:51 am
featured दुनिया

न्यू यॉर्क में रहने वाले एक शख्स ने तीन पॉर्न वेबसाइटों के खिलाफ वर्ग भेदभाव करने का आरोप, मुकदमा दायर

porn vedio न्यू यॉर्क में रहने वाले एक शख्स ने तीन पॉर्न वेबसाइटों के खिलाफ वर्ग भेदभाव करने का आरोप, मुकदमा दायर

न्यू यॉर्क। न्यू यॉर्क में रहने वाले एक बधिर (सुनने में असमर्थ) शख्स ने तीन पॉर्न वेबसाइटों के खिलाफ वर्ग भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दायर किया है। व्यक्ति ने अपनी अर्जी में कहा है कि सबटाइटल के बिना वह वेबसाइटों पर उपलब्ध सामग्री का पूरा-पूरा लुत्फ नहीं उठा पाता है। ब्रुकलीन फेडरल कोर्ट में गुरुवार को दी गई अर्जी में यारोस्लाव सुरिज नामक शख्स पॉर्नहब, रेडट्यूब और यूपॉर्न तथा उसके कनाडाई मुख्य कंपनी माइंडगीक के खिलाफ मुकदमा दायर कर कहा है कि वे ‘अमेरिकंस विद डिसैबिलिटी ऐक्ट’ (विकलांग अमेरिकी कानून) का उल्लंघन कर रहे हैं। इससे पहले भी सुरिज इसी बात को लेकर फॉक्स न्यूज के खिलाफ मुकदमा कर चुके हैं।

उन्होंने कहा था कि वह अक्टूबर और इस महीने कुछ विडियो देखना चाहते थे, लेकिन नहीं देख पाए। सुरिज ने अपने 23 पन्ने की अर्जी में लिखा है, ‘सबटाइटल के बिना बधिरों और ऐसे लोगों को जिन्हें कम सुनाई देता है वे विडियो का पूरा-पूरा लुत्फ नहीं उठा पाते हैं, जबकि सामान्य लोग ऐसा कर पाते हैं।’ सुरिज ने कहा कि वह चाहते हैं कि पॉर्न वेबसाइटें सबटाइटल दें और उन्होंने कुछ हर्जाने की भी मांग की है। पॉर्नहब के वाइस प्रेसिडेंट कोरी प्राइस ने एक बयान जारी कर कहा है कि वेबसाइट पर सबटाइटल वाला भी एक सेक्शन है और उन्होंने उसका लिंक भी दिया है।

Related posts

भारत : हम शांति को प्रतिबद्ध हैं, लेकिन संप्रभुता बनाए रखेंगे.

Rani Naqvi

डर की सत्ता कायम करना चाहती है भाजपा, हम डरने वाले नहीं: नसीमुद्दीन सिद्दीकी

Shailendra Singh

साढ़े चार सालों में सिर्फ विपक्ष की आवाज़ को दबाया गया है: दिलप्रीत सिंह

Shailendra Singh