आर्थिक आंकड़ों, कंपनियों के तिमाही नतीजों पर रहेगी शेयर बाजार की नजर

नई दिल्ली। देश के घरेलू बाजार में आगामी सप्ताह में प्रमुख आर्थिक आंकड़ों, कंपनियों के पहली तिमाही के नतीजों पर बाजार की नजर बनी रहेगी। जियोजिट बीएनपी पारिबा फाइनेंशियल सर्विसिस के प्रमुख बाजार रणनीतिकार आनंद जेम्स ने आईएएनएस से कहा, “आगामी सप्ताह में कंपनियों के तिमाही नतीजों पर नजर रहेगी, विशेष रूप से सोमवार को विनिर्माण पीएमआई (पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्श) और आठ अन्य औद्योगिक उत्पादन आंकड़ों पर बाजार की नजर रहेगी।”

share market

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की नौ अगस्त को मौद्रिक नीतिगत समीक्षा बैठक भी होगी। अन्य बाजार विश्लेषकों का कहना है कि निवेशक कंपनियों के तिमाही नतीजों पर बराबर नजर बनाए रखेंगे आगामी सप्ताह में इंटरग्लोब एवियशन, टाटा कम्युनिकेशंस, वोल्टास, एचसीएल टेक्नोलॉजीज और टाइटन के तीसरी तिमाही के नतीजे जारी किए जाएंगे।

जायफिन एडवाइजर्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी देवेंद्र नेवगी ने कहा, “बाजार में अगले सप्ताह जेनेरिक सूचकांकों के पीई अनुपात के आंकड़ों पर भी नजर रहेगी।” जुलाई 2016 में शुद्ध विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) का प्रवाह 12,600 करोड़ रुपये के स्तर को पार कर गया। घरेलू संस्थागत निवेशक शुद्ध बिकवाली जारी रखेंगे।

शेयर बाजारों के साप्ताहिक आकंड़ों के आधार पर एफपीआई ने पिछले सप्ताह के दौरान 3,719.63 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। नेशनल सिक्युरिटीज डिपॉजिटरी (एनएसडीएल) के आंकड़ों के मुताबिक, एफपीआई ने 25 से 29 जुलाई के दौरान 4,454.35 करोड़ रुपये का निवेश किया। नेवगी ने कहा, “बाजार डॉलर की चाल पर भी नजर बनाए रखेगा।”

ब्रेक्सिट के नतीजों के बाद से एफपीआई ने 10,381 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया है और घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 29 जुलाई तक 6,688 करोड़ रुपये की शुद्ध बिकवाली की है। ट्रेडबुल्स के मुख्य संचालक अधिकारी ध्रुव देसाई के मुताबिक, निवेशक संसद के मौजूदा मानसून सत्र में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) विधेयक से जुड़े घटनाक्रम पर भी नजर रखेंगे।

हाल के दिनों में संसद में जीएसटी विधेयक के पारित होने की संभावना बढ़ी है। निवेशकों को संसद में विधेयक के पारित होने की पूरी उम्मीद है। इस विधेयक को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को प्रस्तावित बदलावों के बाद मंजूरी दे दी थी। केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली की इस मुद्दे पर राज्यों के साथ बैठक से भी विधेयक के पारित होने की उम्मीद है।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 248.62 अंकों यानी 0.89 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 28,051.86 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 51 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक निफ्टी 97.30 अंकों यानी 1.14 प्रतिशत की बढ़त के साथ 8,638.50 पर बंद हुआ।