बिहारःतेजप्रताप यादव इस सत्र में पहली बार पहुंचे विधानसभा,मीडिया ने की सवालों की बारिश

बिहारःतेजप्रताप यादव इस सत्र में पहली बार पहुंचे विधानसभा,मीडिया ने की सवालों की बारिश

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की अर्जी देने के बाद लंबे अरसे से घर नहीं पहुंचे। तेजप्रताप काफी समय से बिहार के बाहर रहे। लेकिन तलाक की अर्जी पर कोर्ट में सुनवाई के दौरान तेजप्रताप यादव पटना पहुंचे। तेजप्रताप अपनी पत्नी ऐश्‍वर्या से तलाक के प्रकरण के चलते लंबे समय से बिहार के बाहर रह रहे। अब मामले में सुनवाई पर आए तो तेजप्रताप यादव इस सत्र में पहली बार विधानसभा भी पहुंचे।

 

बिहारःतेजप्रताप यादव इस सत्र में पहली बार पहुंचे विधानसभा,मीडिया ने की सवालों की बारिश
बिहारःतेजप्रताप यादव इस सत्र में पहली बार पहुंचे विधानसभा,मीडिया ने की सवालों की बारिश

इसे भी पढ़ेःपिता और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की बात कतई नहीं मानूंगा: तेजप्रताप यादव

गौरतलब है कि बिहार विधानसभा सत्र के अंतिम दिन जब तेजप्रताप यादव विधानसभा पहुंचे तब सबकी नजरें उन पर ही टिकी गईं। विधानसभा सत्र के आखिरी दिन और सत्र में पहली बार पहुंचे तेज प्रताप यादव सदन स्थगित होने पर तुरंत ही निकल आए। निकलने के दौरान तेजप्रताप यादव ने बिहार की नीतीश सरकार पर जमकर हमला बोला। इस दोरान सदन में पहुंचे तेज प्रताप का अपना अलग ही रंगा था। तेज प्रताप यादव की पोशाक धोती और कुर्ता थी। तेजप्रताप इस दौरान पैरों में काले रंग की चप्पल पहने हुए थे। माथे पर चंदन का तिलक लगा था। सदन में हंगामे की वजह को लेकर तेज ने सरकार पर हमला बोला।

इसे भी पढे़ःचारा घोटालाः देवघर कोषागार मामले में लालू प्रसाद यादव दोषी

बता दें कि सदन के स्थगित होने के बाद तेजप्रताप यादव बाहर निकले उस दौरान मीडिया ने उनसे सवालों की लड़ी लगाई। जिसमें तेज बहुत से सवालों को नजरअंदाज कर दिया। लेकिन नीतीश कुमार तल्ख तेवर जरूर उन्होंने दिखाए।तेजप्रताप ने कहा कि बिहार में बवाल मचा हुआ है।

मालूम हो कि उनसे पत्रकारों ने पूछा कि सदन में हंगामा ऐसे ही चलते रहेगा या फिर कुछ काम होगा। तेजप्रताप ने कहा कि उनकी पार्टी के लोग जनता के सवालों को उठा रहे हैं। और सरकार की खामियों को उजागर कर रहे हैं। वहीं मीडिया ने उनके घर जाने पर सवाल किए लेकिन इस पर तेज प्रताप ने को ई उत्तर नहीं दिया। वह पत्रकारों के सवाल को असुना करते हुए अपनी गाड़ी में सवार हो गए।

महेश कुमार यादव