January 27, 2022 10:20 am
Breaking News यूपी

संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के डिजिटलाइजेशन के लिए योगी ने कसी कमर

संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के डिजिटलाइजेशन के लिए योगी ने कसी कमर

वाराणसी : संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय वाराणसी को पूरी तरह से डिजिटल करने के लिए सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने कमर कस ली है। डिजिटलाइजेनश की प्रक्रिया में मुख्यमंत्री ने संपूणानंद विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग के सत्यापन कार्य, परीक्षा परिणाम, संबद्धता एवं लेखा विभाग को पूरी तरह से पारदर्शी बनाने के लिए निर्देश दिया है। साथ ही इसके डिजिटलाइजेनश की प्रक्रिया को मजबूत करने के लिए सम्पूर्ण ब्योरा अति शीघ्र शासन को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

इस संबंध में संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. हरेराम त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री से भेंट की। कुलपति ने इस संबंध में बताया कि मुख्यमंत्री द्वारा आश्वासन दिया गया है कि सरस्वती भवन में रखी पांडुलिपियों के संरक्षण एवं प्रकाशन के लिए शासन की तरफ से शीघ्र ही धन का आवंटन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि वर्ष 1975 से अभी तक छात्रवृत्ति नहीं बढ़ने के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने संज्ञान लिया और उसे शीघ्र ही बढ़ाने की बात कही।

इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय की आर्थिक व्यवस्था को मजबूती प्रदान करने के लिए संपूर्ण ब्यौरे को मदानुसार (वेतन मद शैक्षिक/गैर शैक्षिक, छात्रवृत्ति एवं अन्य) तैयार कर शीघ्र भेजने का निर्देश दिया है। इसके अतिरिक्त भी मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय में शिक्षकों के अध्ययन-अध्यापन एवं शोध कार्यो को यूजीसी के नियमानुसार संपन्न कराने और प्रत्येक दो माह में शैक्षिक गतिविधियों एवं विश्वविद्यालय की अन्य सकारात्मक गतिविधियों की आख्या प्रस्तुत करने का भी निर्देश दिया है। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय के सभी विभागों में आंतरिक रूप से स्थानांतरण प्रक्रिया का उपयोग कर संपूर्ण कार्यों में पारदर्शिता बनाये जाने का निर्देश दिया।

Related posts

विपक्ष के निशाने पर बीजेपी, अखिलेश यादव ने बताया किसान विरोधी

Aman Sharma

आतंकियो का शव अब परिवारवालों को नही मिलेगा

Breaking News

हिलेरी के ईमेल ने अमेरिका को खतरे में डाला: ट्रंप

bharatkhabar