UP: योगी सरकार की कैबिनेट बैठक, अयोध्या में बस स्टेशन सहित आठ प्रस्‍तावों पर मुहर  

लखनऊ: राजधानी स्थित लोकभवन में सोमवार को योगी सरकार की कैबिनेट बैठक आयोजित हुई, जिसमें आठ प्रस्‍तावों को मंजूरी मिली है। राम नगरी अयोध्‍या पर योगी सरकार का फोकस अभी भी है।

सीएम योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई बैठक में अयोध्या में बस स्टैंड के निर्माण और लखनऊ में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के निर्माण को मंजूरी सहित आठ प्रस्‍वातों पर मुहर लगी है। कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने प्रेस वार्ता में सभी प्रस्‍तावों की मंजूरी दी।

इन प्रस्‍तावों को मिली मंजूरी
  • अयोध्या में निर्माणाधीन सांस्कृतिक मंच के पास स्थित बस स्टेशन के क्षमता विस्तार एवं निर्माण कार्य के लिए संस्कृति विभाग की भूमि परिवहन विभाग को नि:शुल्क उपलब्ध कराए जाने के प्रस्ताव को अनुमति दी गई है। बस स्टेशन के विस्तार के बाद अयोध्या में श्रद्धालुओं, पर्यटकों एवं यात्रियों की सुविधा के लिए बसों का संचालन सुगम और सुदृढ़ होगा। इससे परिवहन निगम को और अधिक राजस्व की प्राप्ति होगी। अयोध्या से गोरखपुर, आजमगढ़, बलिया, प्रयागराज, वाराणसी, लखनऊ, कानपुर, श्रावस्ती एवं अन्य महत्वपूर्ण गंतव्यों के लिए जनता को बेहतर यातायात सुविधा उपलब्ध होगी।
  • अयोध्या में अयोध्या-सुल्तानपुर मार्ग (NH-330) से एयरपोर्ट तक चार लेन सड़क निर्माण के लिए पीसीयू मानक के शिथिलीकरण प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है। इस परियोजना की लागत 2017.05 लाख आकलित की गई है। यह मार्ग नव निर्माण स्तर का है, जिसकी लंबाई 1.50 किमी है।
  • बुलंदशहर जिले में विधानसभा क्षेत्र व कस्बा अनूपशहर में बस स्टेशन के निर्माण के लिए परिवहन विभाग को निःशुल्क भूमि उपलब्ध कराने के संबंध में मंजूरी मिल गई है। बस स्टेशन निर्माण के बाद अनूपशहर-कौशाम्बी-गाजियाबाद, अनूपशहर-कौशाम्बी-दिल्ली, अनूपशहर-मेरठ-हरिद्वार, अनूपशहर-अलीगढ़, बुलंदशहर-अनूपशहर-सम्भल-हल्द्वानी, अनूपशहर-बरेली तथा अनूपशहर-बदायूँ मार्गों पर बसों का संचालन और सुदृढ़ होगा। इससे परिवहन निगम को अधिक राजस्व की प्राप्ति होगी।
  • प्रयागराज जिले में जीटी रोड से एयरपोर्ट रोड निकट सूबेदारगंज रेलवे स्टेशन पर चार लेन रेल उपरिगामी सेतु एवं जीटी रोड जंक्शन पर चैफटका से कानपुर की तरफ दो लेन फ्लाई ओवर सेतु के निर्माण कार्य की अनुमोदित लागत का व्यय प्रस्ताव पास। इसकी लागत 28421.46 लाख रुपये के व्यय के प्रस्ताव को अनुमोदित कर दिया है।
  • वाराणसी, गोरखपुर, अयोध्या, प्रयागराज एवं आगरा में पर्यटन विभाग के पर्यटन विकास कार्यों के क्रियान्वयन के लिए विकास प्राधिकरणों को कार्यदायी संस्था नामित किये जाने तथा इनके द्वारा अपने कार्यक्षेत्र में ही पर्यटन विकास सम्बन्धी कार्य किये जा सकने के प्रस्ताव को स्वीकृति।
  • जीएच (गाजीउद्दीन हैदर) कैनाल, लखनऊ पर निर्माणाधीन 120 एमएलडी क्षमता के सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट एवं तत्सम्बन्धी कार्य की परियोजना का वित्त पोषण अमृत योजनान्तर्गत किए जाने के प्रस्ताव को स्वीकृति मिल गई है। इस परियोजना की संशोधित लागत 29738.41 लाख रुपए के अनुसार व्यय प्रस्ताव को अनुमोदित किया गया है।

कोरोना का इलाज करते करते शहीद हुए डाक्टरों के परिवार वालों ने मांगा अपना हक

Previous article

WORLD TEST CHAMPIONSHIP: जीतने वाली टीम को ट्रॉफी के साथ मिलेंगे इतने करोड़

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured